Right Way to Workout: वर्कआउट में जाने-अंजाने होती हैं ये बड़ी गलतियां, जानें सही तरीका
Right Way to Workout

Right Way to Workout: वर्कआउट में जाने-अंजाने होती हैं ये बड़ी गलतियां, जानें सही तरीका

Right Way to Workout: वर्कआउट में जाने-अंजाने होती हैं ये बड़ी गलतियां, जानें सही तरीका

नई दिल्ली। Right Way to Workout: लोग खुद को फिट रखने के लिए जिम जाकर वर्कआउट(Workout) करते हं, जो एक अच्छी आदत(Good Habit) है पर कई लोग इस वर्कआउट के दौरान अंजाने में कुछ ऐसी छोटी-छोटी गलतियां(small mistakes) कर बैठते हं, जो उनके लिए बड़ी परेशानियां खड़ी कर सकती हैं। आइए जानें ऐसी ही कुछ गलतियों और उनसे बचने के तरीकों के बारे में...

स्क्वाट्स करते वक्त

लोग अपने पैरों को मजबूत बनाने के लिए स्क्वाट्स की प्रैक्टिस करते हैं। पैरों के लिए यह एक बहुत असरदार एक्सरसाइज(effective exercise) है। हालांकि, कई बार स्क्वाट्स(squats) करते वक्त लोग अपने घुटनों को अंदर की तरफ मोड़ लेते हैं। ऐसा करने पर स्ट्रेस के चलते घुटने में चोट लगने के चांस बढ़ जाते हैं। बेहतर रिजल्ट्स के लिए हमेशा अपने घुटनों को बाहर की ओर रखें।

बेंच प्रेस करते वक्त

बेंच प्रेस बॉडी के ऊपरी हिस्से को स्ट्रॉन्ग बनाने के लिए बेहतरीन एक्सरसाइज है। बाइसेप्स, ट्राइसेप्स(triceps) को बेहतर बनाने के अलावा यह चेस्ट, हाथ और कमर को भी मजबूत बनाती है। अक्सर लोग बेंच प्रेस करते वक्त अपनी कोहनी को ऊपर रखते हैं जिससे कोहनी और कंधे पर खिंचाव पड़ता है। इससे चोट लगने के चांस बढ़ जाते हैं। कंधे के खिंचाव को कम कहने के लिए कोहनी को हमेशा चेस्ट के पास रखें।

जॉगिंग करते वक्त

जॉगिंग के दौरान आपको अपने दोनों पैरों के बीच की दूरी बनाए रखनी चाहिए और पैरों को एड़ियों के बल पर रखना चाहिए। इससे एनर्जी बढ़ती है और पैरों का बैलेंस भी सही बना रहता है। जिससे दौड़ते वक्त गिरने का खतरा भी कम रहता है। जॉगिंग करने पर आपको थकान भी महसूस नहीं होती है।

लंज करते वक्त

बॉडी के निचले हिस्से को मजबूत बनाने के लिए लंज एक्सरसाइज काफी असरदार साबित होती है। इससे आपके ग्लूट, क्वाड्स और हैमस्ट्रिंग मसल्स मजबूत होते हैं। लंज एक्सरसाइज करते वक्त हमेशा बड़े-बड़े कदम लें क्योंकि छोटे-छोटे कदम लेने से आपके घुटने पर और आगे के पैर पर ज्यादा दबाव पड़ता है। इससे बॉडी के निचले हिस्से की मसल्स में तनाव जैसी प्रॉब्लम्स पैदा हो सकती है।

स्ट्रेचिंग के दौरान रहें अलर्ट

कई बार एक्सरसाइज खत्म करने के बाद बॉडी में दर्द रहता है। इससे निजात पाने के लिए स्ट्रेचिंग करना फायदेमंद साबित होता है। वर्कआउट या कार्डियो एक्सरसाइज करने के तुरंत बाद आपको स्ट्रेचिंग करनी चाहिए। इससे वर्कआउट खत्म करने के बाद बॉडी में होने वाले दर्द से राहत मिलती है।