हरियाणा की सियासी सुर्खियां: दिग्गज नेता कुलदीप बिश्नोई का विधायक पद से इस्तीफा, शायराना अंदाज में अपने-आप को यह क्या बता डाला? BJP पर कुछ यूं बोले
Kuldeep Bishnoi resigns as MLA

Kuldeep Bishnoi resigns as MLA

हरियाणा की सियासी सुर्खियां: दिग्गज नेता कुलदीप बिश्नोई का विधायक पद से इस्तीफा, शायराना अंदाज में अपने-आप को यह क्या बता डाला? BJP पर कुछ यूं बोले

Kuldeep Bishnoi resigns as MLA :  बागी होने के बाद कांग्रेस से निलंबित किये गए कुलदीप बिश्नोई ने अब विधायक पद से इस्तीफा दे दिया है। कुलदीप बिश्नोई ने हरियाणा विधानसभा स्पीकर को अपना इस्तीफा सौंपा है। इस्तीफा देने के बाद कुलदीप बिश्नोई ने कहा कि उन्होंने जो भी फैसला लिया है बहुत सोच-समझकर और अपने लोगों से सलाह करके लिया है। वह कल दिल्ली में बीजेपी का दामन थामेंगे। बतादें कि, कुलदीप बिश्नोई के बीजेपी में शामिल होते वक्त हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर भी मौजूद रहने वाले हैं। पिछले कुछ दिनों से लगातर कुलदीप बिश्नोई को बीजेपी के करीब जाते और सीएम मनोहर लाल की तारीफ करते हुए देखा जा रहा था।

शायराना अंदाज में अपने-आप को यह क्या बता डाला?

वहीं, इस्तीफा देने के पहले कुलदीप बिश्नोई का शायराना अंदाज में एक ट्वीट देखने को मिला। जिसमें उन्होंने खुद को मुसाफिर बताया और कहा कि वह खुद की तलाश में हैं। कुलदीप बिश्नोई ने लिखा- ''मुसाफिर कल भी था, मुसाफिर आज भी हूं, कल अपनों की तलाश में था, आज अपनी तलाश में हूं!''

राज्यसभा चुनाव के बाद कांग्रेस ने कर दिया था निलंबित ...

दरअसल, बीते दिनों हरियाणा की दो राज्यसभा सीटों पर हुए चुनाव में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा| दोनों सीटों में एक पर जहां भाजपा प्रत्याशी कृष्णलाल पंवार जीते तो वहीं दूसरी सीट पर भाजपा-जजपा समर्थित निर्दलीय कार्तिकेय शर्मा विजयी हुए| बतादें कि, कांग्रेस ने अजय माकन को अपना राज्यसभा उम्मीदवार बनाया था| कार्तिकेय शर्मा अगर न जीतते तो अजय माकन की जीत हो जाती| पर यहां सारा खेल कुलदीप बिश्नोई ने बिगाड़ दिया|

कुलदीप बिश्नोई ने अपनी अंतरआत्मा से वोट दिया और माना जाता है कि यह वोट कार्तिकेय शर्मा के पक्ष में गया| कुलदीप बिश्नोई ने क्रॉस वोटिंग की और अपने ही उम्मीदवार को हरवा दिया| जिसके बाद कांग्रेस हाईकमान सख्त हो गया और कुलदीप बिश्नोई को पार्टी से निलंबित कर दिया गया। इसके साथ ही कुलदीप बिश्नोई से केंद्रीय कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की सदस्यता भी छीन ली गई थी| साथ ही कांग्रेस हाईकमान द्वारा हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष को कुलदीप बिश्नोई की विधानसभा से सदस्यता रद्द करने के लिए पत्र भी लिखा गया था।

कुलदीप बिश्नोई का राजनीतिक सफर ...

आपको बतादें कि, कुलदीप बिश्नोई हरियाणा के तीन बार मुख्यमंत्री स्वर्गीय भजन लाल के बेटे हैं। कुलदीप बिश्नोई खुद भी एक दिग्गज नेता हैं| वह पूर्व में दो बार भिवानी और हिसार से लोकसभा सांसद रह चुके हैं| इसके अलावा कुलदीप बिश्नोई इस समय हिसार की आदमपुर विधानसभा सीट से चौथी बार विधायक हैं| कुलदीप बिश्नोई पहली बार 1998 में आदमपुर से विधायक बने थे| इस सीट पर कुलदीप बिश्नोई के परिवार का ही दबदबा रहा है|