Gangster Goldie Brar's attempt to open the account, the bank suspects that the miscreant absconded
Pathankot

Gangster Goldie Brar's attempt to open the account, the bank suspects that the miscreant absconded

गैंगस्टर गोल्डी बराड़ का अकाउंट खुलवाने की कोशिश, बैंक को शक हुआ फरार हुआ बदमाश

चंडीगढ़। पठानकोट स्थित नेशनल बैंक में लॉरेंस गैंग के गैंगस्टर गोल्डी बराड़ के नाम पर बैंक खाता खुलावाने की कोशिश की गई। खाता खुलवाने आया बदमाश हरियाणा का था। मगर, वह राजस्थानी बनकर बैंक में आया था। बैंक अफसरों को शक हुआ तो उन्होंने पुलिस को कॉल कर दी। पुलिस के आने की भनक लगते ही बदमाश बाथरूम जाने के बहाने वहां से भाग निकला। पुलिस ने बैंक और बाहर की सीसीटीवी फुटेज कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। गोल्डी बराड़ पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड का मास्टरमाइंड है। उसकी फोटो पर बैंक खाता खुलवाने के मकसद को लेकर पुलिस जांच कर रही है।

पठानकोट की ढांगू रोड स्थित नेशनल बैंक में एक शख्स पहुंचा। वह मैनेजर से मिला और नया बैंक अकाउंट खोलने की बात कही। जब बैंक ने केवाईसी करने के लिए आधार कार्ड मांगा तो उस पर गैगस्टर गोल्डी बराड़ की फोटो लगी थी। यह देख बैंक मैनेजर को शक हो गया। उसने जो पैन कार्ड दिया, उस पर किसी दूसरे की फोटो थी।

बैंक मैनेजर ने तुरंत पठानकोट के एसएसपी अरूण सैनी को फोन कर पूरी बात बताई। सैनी ने बदमाश को बातों में उलझाकर रखने को कहा। मैनेजर ने स्टाफ को बुलाकर आरोपी को व्यस्त रखने और उसकी एक्टिविटी पर नजर रखने को कहा। इसी दौरान बदमाश को कुछ शक हो गया। उसने बाथरूम जाने की बात कही और गेट की तरफ से भाग निकला। बैंक कर्मचारियों ने उसे पकडऩे की कोशिश की लेकिन नाकाम रहे।

जोधपुर के मांगी लाल की निकली केवाईसी डिटेल्स

एसएसपी अरूण सैनी ने कहा कि बदमाश के आधार कार्ड की फोटो कनाडा बैठे गैंगस्टर गोल्डी बराड़ से मैच हो रही है। संभव है कि उसने इंटरनेट से यह फोटो ली हो। उसकी केवाईसी डिटेल्स के जरिए पुलिस ने छानबीन की तो वह जोधपुर का मांगी लाल निकला। ऐसा लगता है कि फोटो और नाम-पता भी फर्जी था।