अफगानिस्तान में तालिबान ने की क्रूरता की सारी हदें पार, एक युवक को मारी गोली; शव को सार्वजनिक रूप से घुमाया
अफगानिस्तान में तालिबान ने की क्रूरता की सारी हदें पार

अफगानिस्तान में तालिबान ने की क्रूरता की सारी हदें पार, एक युवक को मारी गोली; शव को सार्वजनिक रूप से

अफगानिस्तान में तालिबान ने की क्रूरता की सारी हदें पार, एक युवक को मारी गोली; शव को सार्वजनिक रूप से घुमाया

अफगानिस्तान में तालिबान की बर्रबरता जारी है। अंदराब जिले के बगलान में तालिबानियों ने एक युवक की गोली मारकर हत्या दी और उसका शव बाजार में लटका दिया। लोकल मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, स्थानीय लोग उसका शव लेकर वापस गए और इस मामले में तालिबान की क्रूरता पर सवाल भी खड़े किए। 
 
रिपोर्ट में बताया गया कि तालिबानी 20 जुलाई को अंदराब के कासा तारश इलाके में रहने वाले युवक के घर जा पहुंचे। उन्होंने युवक पर घर से बाहर आने के लिए दबाव डाला और फिर गोली मारकर उसकी हत्या कर दी। स्थानीय निवासियों ने कहा कि तालिबानियों ने जिला भवन के सामने जमा हुए लोगों को तितर-बितर करने के लिए हवाई फायरिंग भी की।

'तालिबान अपने करार को लेकर प्रतिबद्ध नहीं'
तालिबान की ओर से की जा रही मनमानी हत्याओं को लेकर UNAMA की रिपोर्ट हाल ही पब्लिश हुई है। इसमें बताया गया है कि तालिबान अपने करार को लेकर प्रतिबद्ध नहीं है। पिछले 10 महीनों में दसियों पूर्व सुरक्षा बलों और कर्मचारियों की हत्या हुई है।

UN ने भी मौजूदा हालात पर जताई चिंता
वहीं, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) ने तालिबान से अपनी उन नीतियों को तुरंत बदलने का आह्वान किया है, जिनके तहत अफगान महिलाओं और लड़कियों के मानवाधिकारों व उनकी मौलिक स्वतंत्रता पर प्रतिबंध लगाए जा रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र की शीर्ष इकाई ने देश में अस्थिर स्थिति, विशेष रूप से वहां जारी आतंकवादी हमलों पर अपनी चिंता व्यक्त की है। अफगानिस्तान में नागरिकों, असैन्य बुनियादी ढांचे और धार्मिक अल्पसंख्यक समुदायों को निशाना बनाकर किए जाने वाले आतंकवादी हमलों भी चिंता जाहिर की गई।