स्वतंत्रता के बाद पैदा होने वाले पहले पीएम है नरेंद्र मोदी : नंदा
BREAKING
जम्मू-कश्मीर में सेना ने आतंकियों का बड़ा हमला रोका; फटाफट एक्शन में आए जवान, ताबड़तोड़ गोलियां बरसाईं, एनकाउंटर जारी सुप्रीम कोर्ट से योगी सरकार को बड़ा झटका; दुकानों पर 'नेम प्लेट' लगाने वाले आदेश पर रोक लगाई, UP समेत 3 राज्यों को नोटिस जारी RSS की गतिविधियों में अब शामिल हो सकेंगे सरकारी कर्मचारी; केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, 58 साल पुराना प्रतिबंध हटाया, कांग्रेस हमलावर "ढाई घंटे तक देश के प्रधानमंत्री का गला घोंटा गया''; संसद के बजट सत्र पर PM मोदी का बयान, पहले ही दिन विपक्ष पर जमकर बरसे चमत्कारिक है भगवान शिव का यह नाम जप; प्रेमानंद महाराज ने बताया- कैसे दिखाता है प्रभाव, महादेव के इस मंत्र को न जपने की दी चेतावनी

स्वतंत्रता के बाद पैदा होने वाले पहले पीएम है नरेंद्र मोदी : नंदा

Lok Sabha Elections Result 2024

Lok Sabha Elections Result 2024

शिमला: Lok Sabha Elections Result 2024: भाजपा मीडिया प्रभारी कर्ण नंदा ने कहा की मोदी 3.0 , पूर्व में पीएम मोदी ने कई खिताब जीते और आगामी कई जीतने की तैयारी में। नंदा ने कहा की स्वतंत्रता के बाद पैदा होने वाले पहले पीएम है नरेंद्र मोदी। 26 मई 2014 को नरेंद्र मोदी ने भारत के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली थी। इसके साथ ही वह भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद पैदा होने वाले पहले प्रधानमंत्री बन गए। अमेरिकी संसद का संबोधन : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 जून 2023 को अपने दौरे पर दूसरी बार अमेरिकी सदन को संबोधित किया था। इससे पहले वह 8 जून 2016 को भी अपने अमेरिका दौरे पर अमेरिकी सदन के संयुक्त सत्र को संबोधित कर चुके थे। जून 2023 में अमेरिकी संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करते ही उन्होंने महान नेता नेल्सन मंडेला की बराबरी कर ली थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन कुछ चुनिंदा महान नेताओं की बराबरी कर ली, जो दो या दो से ज्यादा बार अमेरिकी संसद को संबोधित कर चुके हैं। दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति और रंगभेद के खिलाफ लड़ाई लड़ने वाले महान नेता नेल्सन मंडेला और इस्राइल के पूर्व पीएम यित्झाक राबिन भी दो बार अमेरिकी संसद को संबोधित कर चुके हैं।

वहीं विस्टन चर्चिल और इस्राइल के मौजूदा पीएम बेंजामिन नेतान्याहु तीन-तीन बार अमेरिकी सदन को संबोधित कर चुके हैं। राजीव गांधी, अटल बिहारी वाजपेयी से आगे निकले : इस मामले में पीएम मोदी अपने पूर्ववर्ती राजीव गांधी और अटल बिहारी वाजपेयी के साथ ही मनमोहन सिंह और पीवी नरसिम्हा राव से अपने आगामी अमेरिका दौरे में आगे निकल गए। ये नेता एक-एक बार अमेरिकी सदन के संयुक्त सत्र को संबोधित कर चुके हैं। राजीव गांधी भारत के पहले प्रधानमंत्री थे, जिन्होंने 1985 में पहली बार अमेरिकी सदन को संबोधित किया था। योग सत्र ने गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड : जून 2023 में संयुक्त राष्ट्र में प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में योग सत्र ने गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में 21 जून 2023 को संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में आयोजित योग समारोह में सर्वाधिक देशों के लोगों की भागीदारी का गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बना था। उनके साथ संयुक्त राष्ट्र महासभा के 77वें सत्र के अध्यक्ष कसाबा कोरिसी, उप महासचिव अमीना मोहम्मद और न्यूयॉर्क शहर के मेयर एरिक एडम्स भी मौजूद थे। अयोध्या दौरों का रिकॉर्ड : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त 2020 को 28 साल के अंतराल के बाद अयोध्या पहुंचे और एक दिन में एक साथ कई रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए थे। मोदी राम जन्मभूमि का दौरा करने वाले पहले प्रधानमंत्री हैं। साथ ही, यह पहला मौका है, जब किसी प्रधानमंत्री ने भगवान हनुमान का आशीर्वाद लेने के लिए हनुमान गढ़ी का दौरा किया। मोदी 1992 में अयोध्या आए थे और अयोध्या के जीआईसी मैदान में मुरली मनोहर जोशी के साथ एक सभा को संबोधित भी किया था। इसके बाद उन्होंने रामलला के दर्शन भी किए थे। मोदी तत्कालीन भाजपा अध्यक्ष डॉ. मुरली मनोहर जोशी के नेतृत्व में 'तिरंगा यात्रा' के संयोजक थे, जो दिसंबर 1991 में शुरू हुई थी और 18 जनवरी 1992 को अयोध्या पहुंची थी। यह यात्रा अनुच्छेद 370 को हटाने की मांग को लेकर आयोजित की गई थी। 

उन्होंने कहा कि यह हमारा सौभाग्य है कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीसरी बार बनने जा रहे हैं। देश विकसित हुआ है और 2047 में विकसित भारत बनने जा रहा है यह केवल पीएम मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ही कर सकती है। भाजपा ने संकल्प लिया है और मोदी उसे संकल्प को पूरा करेंगे।