तालाब में जमा गंदा पानी दे रहा बीमारियों को न्यौता
तालाब में जमा गंदा पानी दे रहा बीमारियों को न्यौता

तालाब में जमा गंदा पानी दे रहा बीमारियों को न्यौता

तालाब में जमा गंदा पानी दे रहा बीमारियों को न्यौता

-  3 दिनों से तालाब में मरा पड़ा है बेसहारा सांड, नही ली प्रशासन ने कोई सुध

- पंचायत ने प्ले ग्राउंड बनाने के लिया स्कूल को सौंपा था तालाब

बद्दी, 15 अप्रैल
संजीव कौशल

विकास को लेकर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर  ने जहाँ सख्त दिशा निर्देश जारी किए हैं। बावजूद इसके जिम्मेदार अधिकारी विकास कार्य के प्रति उदासीनता बरत रहे हैं । ऐसी ही कुछ स्थिति बद्दी के गुल्लरवाला पंचायत के पुराने तालाब की है। जहां जर्जर खस्ताहाल भ्रष्टाचार की कहानी बयां कर रहे हैं । गांव की बदहाली से ग्रामीण परेशान हैं और बीमारियां फैलने का डर सता रहा है। ग्राम पंचायत गुल्लरवाला में राजकीय विद्यालय के साथ जमा गंदा पानी का तालाब ग्रामीणों के लिए सिरदर्द बना हुआ है। इनमें भरा गंदा पानी अब सड़ने लगा है, नागरिकों को महामारी की आशंका सताने लगी है। वही अब बेसहारा पशु भी उस गंदे पानी के सेवन से मर रहे हैं। जिससे पूरे गांव में बदबू ही बदबू फैल गई है घरों का गंदा पानी इकट्ठा होने से महामारी फैलने का खतरा बन गया है। 3 दिन पहले गंदे पानी का सेवन कर एक बेसहारा सांड भी तलाक के बीचो बीच मर गया पर ना तो स्कूल प्रशासन द्वारा और ना ही पंचायत द्वारा उसे तालाब से बाहर निकाला गया। जिससे पूरे गांव में लोगों का सड़क से गुजर ना तक दुबर हो गया है और हवा के साथ घरों तक में बदबू जा रही है। विद्यालय में पढ़ने वाले छात्रों के स्वास्थ्य पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। गांव के पंच भीम सिंह हरदीप सिंह प्रदीप अमित धीमान अरुण धीमान हिम्मत सिंह रमन जस्सी धीमान अक्षर धीमान भाग सिंह व अन्य युवाओं का कहना है कि उनके द्वारा कई बार पंचायत वह स्कूल प्रबंधन को ग्राउंड बनाने के लिए कहां गया लेकिन कोई भी इस और ध्यान नहीं दे रहा जबकि उनके द्वारा ग्राउंड को पंचायत के युवाओं के हवाले करने बारे कई बार कहा गया पर कोई ना कोई बहाना स्कूल या पंचायत द्वारा बना दिया जाता है। अभी हाल ही में सभी युवाओं द्वारा पंचायत को ज्ञापन भी सौंपा गया था पर पंचायत द्वारा भी उस पर कोई भी कार्यवाही नहीं की गई। प्रदेश सरकार से मांग की है कि इस ग्राउंड को स्कूल से वापिस पंचायत के नाम ट्रांसफर किया जाए ताकि पंचायत के युवा ग्राउंड का अच्छे से रखरखाव कर सके और युवा पीढ़ी को खेलकूद की तरफ प्रेरित किया जा सके। गांव के युवाओं ने प्रशासन से जल्द इस पर निर्णय लेने को कहा अन्यथा सभी युवा स्कूल और पंचायत का घेराव करेंगे और जरूरत पड़ी तो सड़क को भी जाम किया जाएगा।