हार्ट अटैक से पत्नी की मौत, सदमे में पति ने भी तोड़ दिया दम, एक साथ जलीं दोनों की चिताएं
BREAKING
जोशी ने गांव बड़ी करौर में रेत माफिया के हमले में घायल लोगों का कुशल-क्षेम जाना एमटीवी स्प्लिट्सविला एक्स 5 - एक्सयूज़ मी प्लीज़ के प्रतियोगी लक्ष्य, उन्नति और दिग्विजय राठी चंडीगढ़ में अपने फैन्स से मिले!* चंडीगढ़ प्रशासन द्वारा गांव रायपुर खुर्द में चलाई जा रही अवैध निर्माण पर कार्रवाई का स्थानीय लोगों द्वारा जबरदस्त विरोध केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद का यूपी में एक्सीडेंट; अपने संसदीय क्षेत्र के दौरे पर निकले थे, तेज रफ्तार गाड़ी ने पीछे से मारी कार में टक्कर गुजरात के स्कूल में खौफनाक हादसा; क्लासरूम में लंच कर रहे थे बच्चे, अचानक गिर पड़ी दीवार, वीडियो में कैद पूरा मंजर देखिए

हार्ट अटैक से पत्नी की मौत, सदमे में पति ने भी तोड़ दिया दम, एक साथ जलीं दोनों की चिताएं

Wife died due to heart attack

Wife died due to heart attack

Wife died due to heart attack: उत्तर प्रदेश के आगरा में पत्नी के ह्रदय गति रुकने से हुए निधन के 12 घंटे के अंतराल में पति ने भी दम तोड़ दिया. पत्नी की मौत से पति काशीराम बेहद दुखी था. सुबह से काशीराम के आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे थे. मिलने-जुलने वाले नाते रिश्तेदार लगातार उसे संभाल रहे थे. लेकिन उसपर किसी के समझाने का कोई असर नहीं हो रहा था. पत्नी के वियोग में उसकी भी सांसें थम गईं. 

दोनों का अंतिम संस्कार एक साथ फतेहाबाद के जोनेश्वर घाट पर किया गया. इस दौरान वहां मौजूद सभी की आंखें नम थीं. मौत से पहले दंपति दुनिया को एक साथ छोड़ने की बात कहते थे. बीते दिन उनकी बात सच साबित हो गई. दंपति की मौत के बाद पूरे परिवार में कोहराम मचा हुआ है.  

बता दें कि यह वाकया फतेहाबाद कस्बे के अम्बेडकर मोहल्ले का है. जहां पति-पत्नी का एक साथ संसार से चले जाना चर्चा का विषय बना हुआ है. अंबेडकर मोहल्ले में कमलेश उर्फ़ मलूकी (58) की शादी 40 वर्ष पहले पूर्व गंगाराम का नगला निवासी काशीराम (65) के साथ हुई थी. शादी के 10 साल बाद कमलेश अपने पति काशीराम के साथ अपनी मां के घर अंबेडकर नगर में रहने लगी. 

पत्नी के निधन के 12 घंटे के अंतराल में पति ने भी दम तोड़ दिया

कमलेश हर रोज की तरह सोमवार सुबह घर का काम कर रही थी. करीब 10 बजे अचानक उनके सीने में दर्द होने लगा. कुछ ही देर में कमलेश की हार्ट अटैक के कारण मृत्यु हो गई. मृतक के भाई का नाम विजेंद्र है. विजेंद्र देहरादून में सरकारी अध्यापक के पद पर नौकरी करते हैं. विजेंद्र को बहन कमलेश की मौत की सूचना दी गई.

अंतिम संस्कार के लिए विजेंद्र के आने का इंतजार किया जा रहा था. लेकिन सोमवार को ही 12 घंटे बाद रात्रि में करीब 10 बजे कमलेश के पति काशीराम को अटैक पड़ गया, जिससे उनकी भी मौत हो गई. बीते मंगलवार को दोनों का एक साथ अंतिम संस्कार किया गया.   एक ही दिन में पति-पत्नी की मौत की सूचना आसपास के गांवों में फ़ैल गई. लोग परिवार को सांत्वना देने पहुंच रहे हैं.

यह पढ़ें:

महोबा में नाबालिग से रेप के मामले में फैसला, आरोपी को 20 साल कारावास की सजा

अखिलेश ने स्वीकारा कांग्रेस का न्योता, Rahul Gandhi की 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' में होंगे शामिल

UP: रिटायर्ड DSP ने लाइसेंसी रिवॉल्वर से खुद को गोली मारी, किडनी की बीमारी से थे परेशान