Urfi Javed Depression Time : TV स्टार उर्फी जावेद असल ज़िंदगी में इतनी है परेशान, यूं बयां किया अपने डिप्रेशन में जाने की वजह को

Punjab CM

TV स्टार उर्फी जावेद असल ज़िंदगी में इतनी है परेशान, यूं बयां किया अपने डिप्रेशन में जाने की वजह को

Urfi Javed Depression Time

Urfi Javed reveals her bad times in her past life

Bollywood Life : अपनी बेढंग पोशाकों की वजह से हमेशा खबरों की सुर्खियों में रहने वाली उर्फी जावेद इन दिनों काफी परेशान दिखी है। उनकी परेशानी की वजह उनके निजी जीवन की कुछ पुरानी यादें लेकिन परेशान करने वाली बाते उन्हें आज भी मेंटली टॉर्चर करती है। उर्फी जावेद रियलिटी शो बिग बॉस OTT के काफी फेमस हो गयी थी। हालांकि, Big Boss के शो में उर्फी जावेद पहले ही हफ्ते में बाहर हो गई थी। उर्फी जावेद TV स्टार होने के साथ- साथ सोशल मीडिया की दुनिया में भी एक बड़ा नाम कमा चुकी है। हाल ही, में दिए एक इंटरव्यू में उर्फी जावेद का दर्द सामने आया है। आइए जानते है क्या है पूरी वजह।  

इंटरव्यू में किया खुलासा
हाल ही में दिए गए इंटरव्यू के दौरान उर्फी जावेद ने अपने संघर्षों के बारे में खुलकर बताया है। अभिनेत्री ने कुछ ऐसी बातों का खुलासा किया है जिसे सुनकर सभी लोग दंग रह गए हैं। उर्फी ने बताया की जब स्कूल में पढ़ा करती थी, तब एक स्कूली छात्र ने उनकी कुछ तस्वीरें एडल्ट वेबसाइट पर शेयर कर दी थी। उन तस्वीरों के बारे में उर्फी जावेद के माता पिता और रिश्तेदारों को पता चल गया था।

शारीरिक मानसिक शोषण
जब ये बात उर्फी जावेद के पिता को पता चला तब, उनके पिता ने करीब दो सालों तक उनके साथ शारीरिक और मानसिक रूप से शोषण किया था। उर्फी जावेद उन दिनों डिप्रेशन का शिकार हो गई थी।

रिश्तेदार ने बैंक बैलेंस की जांच की
जब ये बात उनके रिश्तेदारों तक पहुंची, तो उनके रिश्तेदार ने उर्फी जावेद के बैंक बैलेंस की जांच कराने को कहा। उनके रिश्तेदार को ऐसा लगने लगा था कि उर्फी इन कामों को करके पैसा कमाती है।

परिवार समझते थे पॉर्न स्टार
उर्फी जावेद ने कहा कि मेरी Adult Website पर कुछ तस्वीरें अपलोड कर दी गई थी, जिसके कारण उनके परिवार वाले उन्हें पॉर्न ऐक्ट्रेस समझने लगे थे। इस मुश्किल घड़ी में घर में उनका किसी ने भी साथ नहीं दिया था।

लड़कियां नहीं लेती फैसले
उर्फी जावेद ने आगे कहा 'उनके पिता का ऐसा मानना था कि लड़कियां घर में कोई भी निर्णय नहीं ले सकती है, क्योंकि निर्णय लेने का फैसला सिर्फ घर के पुरुषों को ही होता है'। हालांकि, उर्फी इस बात के बिलकुल खिलाफ थी जिसके कारण उसके पिता से उसकी ज्यादा बात नहीं होती थी।