Threats to MLAs: विधायकों को धमकी देने वालों के तार पाकिस्तान से जुड़े
Threats to MLAs

Threats to MLAs: विधायकों को धमकी देने वालों के तार पाकिस्तान से जुड़े

Threats to MLAs: विधायकों को धमकी देने वालों के तार पाकिस्तान से जुड़े

हवाला के जरिये भेजा जाता था पैसा
पुलिस ने अब तक 727 बैंक खातों को किया सीज

चंडीगढ़ , 13 अगस्त। Threats to MLAs: हरियाणा पुलिस द्वारा विधायकों को धमकी दिए जाने के मामले में गिरफ्तार किए गए आरोपियों के तार पाकिस्तान से जुड़े हुए हैं जो हवाला के जरिए पैसा भेजते थे। अब तक हुई जांच के आधार पर शनिवार को हरियाणा पुलिस प्रवक्ता(Haryana Police Spokesperson) ने बताया कि जून व जुलाई में हरियाणा,पंजाब व दिल्ली के विधायकों को धमकी दी गई थी जिसके संबंध में अलग-अलग मुकदमें दर्ज हुए थे। 

पुलिस प्रवक्ता के अनुसार सोनीपत के विधायक सुरेन्द्र पंवार, सढोरा की विधायक रेनु बाला, सफीदों के विधायक सुभाष गांगोली, सोहना के विधायक संजय सिंह तथा पंजाब व दिल्ली के पूर्व विधायकों को जान से मारने की धमकी देकर फिरोती मांगी गई थी। इस संबंध में आरोपियों अमित यादव उर्फ राधेश्याम कुमार यादव, सद्दीक अनवर, सनोज कुमार, कैश आलम, दुलेश आलम, बदरे आलम व अबुलेश आलम को गिरफ़्तार किया गया तथा आरोपियों से काफी मात्रा में चैक बुक, पासबुक, ए.टी.एम. कार्ड , मोबाईल सिम, मोबाईल फोन व नकद रुपये बरामद किए गए।

पुलिस प्रवक्ता के अनुसार आरोपियों के फोनों में कुल 18 वर्चुअल नंबर विदेशों से आप्रेट होने पाए गए। गिरफ्तार आरोपियों(arrested accused) के साथी आरोपी मिडल ईस्ट में ईकबाल कैश आलम व सदिक तथा साउदी अरब में राकेश तथा पाकिस्तान में अली, नजीर, वसीम, शब्बीर, इमरान, एमडी खान व रफ़ीक  हैं। 

सभी ने आपस में मिलकर जनप्रतिनिधियों के मोबाइल नंबर व अन्य संबंधित डाटा इंटरनेट(related data internet) व अन्य तरीकों से लेकर चालाकी से स्थानीय गैंगस्टर के नाम से व्हाट्सप्प के जरिये कॉल और चैट से धमकी दे कर पैसे ऐंठने का प्रयास किया गया। 

अबुलेश आलम पुत्र बब्लू आलम वासी गांव दमावरा थाना साठी जिला बेतिया बिहार पहले आनलाइन ठगी करता था। जून 2021 मे पोक्सो व रेप के मुकदमे में बेतिया (बिहार) जेल चला गया था। इस अबुलेश आलम ने अमित उर्फ राधेश्याम व अपने छोटे भाई दुलेश आलम को ठगी का यह काम सीखा कर विदेश मे बैठे अपने भाई कैश आलम व पाकिस्तान व मिड्डल ईस्ट देशो मे बैठे ईकबाल कैश आलम, सदिक, राकेश, अली, नजीर, वसीम, शब्बीर, इमरान, रूष्ठ खान वा रफ़ीक के साथ सम्पर्क करवा दिया। आरोपी कैश आलम(accused cash alam) पहले करीब तीन साल दुबई में रह चुका है। 

मोबाइल डॉटा व पूछताछ से आरोपियों के विदेश में बैठे आरोपी साथी इकबाल , वसीम, अली, नाजीर के साथ व्हाटस अप चैट अनुसार पिछले 8 महीने में कुल 727 बैंक खातो में 867 ट्रांजेक्शन्स के जरिये करीब 2,77,03750/- रुपये का लेन देन पाया गया है। यह सभी बैंक खाते पाकिस्तान व मिड्डल ईस्ट देशो मे बैठे ईकबाल कैश आलम, सदिक, राकेश, अली, नजीर, वसीम, शब्बीर, इमरान, रूष्ठ खान वा रफ़ीक  आपरेट करवाते थे। 

पुलिस के अनुसार अब तक 727 बैंक खातों को सीज कराया जा चुका है। जांच में सामने आया कि सीज किए गये 727 बैंक खाते उन व्यक्तियों के पाए गए हैं जिनके परिवार से कोई न कोई सदस्य मिड्डल ईस्ट के देशो मे नौकरी करते है। इन्ही व्यक्तियो व इनके परिजनो के बैंक खातो का प्रयोग करके ठगी द्वारा प्राप्त किया गया धन हवाला के जरिये पाकिस्तान मे भेजा जाता है।