बेजुबान कंपनी को महापौर ने दिया टारगेट।
बेजुबान कंपनी को महापौर ने दिया टारगेट।

बेजुबान कंपनी को महापौर ने दिया टारगेट।

बेजुबान कंपनी को महापौर ने दिया टारगेट।

हर महीने कम से कम 500 डॉग्स का हो स्टेरलाइजेशन।
765 डॉग्स का अब तक हो चुका है स्टेरलाइजेशन।
पेट डॉग्स का रजिस्ट्रेशन ना करवाने पर लगेगा फाइन और एफआईआर भी हो सकती है दर्ज।

13 मई, पंचकूला।

डॉग मॉनिटरिंग कमेटी ऑफ स्टरलाइजेशन की बैठक शुक्रवार को हुई। बैठक की अध्यक्षता महापौर श्री कुलभूषण गोयल ने की। शहर में दिनों-दिन डॉग बाइट के बढ़ते मामलों को देखते हुए बैठक का आयोजन किया गया था ताकि डॉग बाइट के मामलों को कम किया जा सके। बैठक में चीफ सेनेटरी इंस्पेक्टर अविनाश सिंगला ने बताया कि मार्च से लेकर 13 मई तक अब तक कुल 765 डॉग्स का स्टेरलाइजेशन किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि 15 अप्रैल से 13 मई तक कुल 150 से ज्यादा डॉग्स को स्टेरलाइज किया गया और इन डॉग्स को स्टेरलाइज पंचकूला में किया गया है। 

बैठक में महापौर श्री कुलभूषण गोयल ने बताया कि 14 अप्रैल के बाद गांव सुखदर्शनपुर के डॉग्स रिहैबिलिटेशन सेंटर में डॉग्स को स्टेरलाइज किया जा रहा है। महापौर ने बताया कि सुखदर्शनपुर में 16 डॉग्स मौजूद हैं जिसमें से 9 डॉग्स की सर्जरी हो चुकी है और 7 डॉग्स की सर्जरी जारी है। महापौर ने बताया कि उन्होंने बेजुबान कंपनी को हर महीने कम से कम 500 डॉग्स की स्टेरलाइजेशन करने का टारगेट दिया है ताकि शहर में बढ़ रहे डॉग बाइट्स के मामले कम हो सके और साथ ही डॉग्स के बढ़ते बच्चों की संख्या में भी कमी आ सके। श्री कुलभूषण गोयल ने डॉग्स लवर्स से आग्रह करते हुए कहा कि डॉग्स लवर्स अपने डॉग्स का रजिस्ट्रेशन जरूर कराएं। उन्होंने बताया कि अलग-अलग माध्यमों से निगम पहले भी कई बार लोगों से यह आग्रह कर चुका है ताकि सभी लोग अपने पेट डॉग्स का रजिस्ट्रेशन नगर निगम में जल्द करवा लें। उन्होंने बताया कि नगर निगम जल्द ही अपनी टीम फील्ड में उतारने वाला है और जिन लोगों ने अपने डॉग्स का रजिस्ट्रेशन नहीं करवाया ऐसे लोगों पर फाइन लगाया जाएगा और फाइन लगने के बाद भी यदि लोग नहीं मानते तो ऐसे में उन लोगों पर केस भी दर्ज किया जाएगा। उन्होंने कहा कि शहर को पेट डॉग्स और स्ट्रे डॉग्स से किस तरीके से बचाया जाए इसको लेकर नगर निगम गंभीर है।

महापौर श्री कुलभूषण गोयल ने बताया कि यदि किसी को सड़क पर या कहीं भी अति क्रूर डॉग दिखते हैं तो वे 9876252622 पर कॉल करके बता सकते है ताकि ऐसे डॉग्स की स्टेरलाइजेशन प्राथमिकता पर की जा सके। उन्होंने बताया कि हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष व पंचकूला के विधायक श्री ज्ञान चंद गुप्ता के 7 सरोकारों में से नशा मुक्ति सरोकार नंबर एक पर है। उन्होंने बताया कि नशा मुक्ति को लेकर नगर निगम 15 मई से 30 मई तक पखवाड़ा मनाने जा रहा है और इन 15 दिन में निगम पंचकूला को ड्रग फ्री बनाने को लेकर बड़ा अभियान चलायेगा जिसमें नाटकों, डिजिटल बोर्ड्स आदि के माध्यम से लोगों को नशे से दूर रहने का संदेश दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि नशा बेचने वाले, नशा करने वाले को जल्द पकड़ा जाए इसको लेकर भी एक परमानेंट हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है जोकि 7087081100 है। उन्होंने बताया कि जो भी व्यक्ति नशा करने वाले या नशा बेचने वाले के बारे में इस नम्बर पर सूचना देगा उसकी पहचान गुप्त रखी जाएगी और सूचना पर तुरंत कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे पंचकूला को नशा मुक्त किये जाने को लेकर 15 मई से 30 मई तक चलाये जा रहे अभियान में साथ दें ताकि युवा नशे से दूर रहे और पंचकूला को ड्रग फ्री बनाया जा सके।

बैठक में कमेटी के मेंबर पार्षद सुनीत सिंगला, पार्षद अक्षदीप चौधरी, पार्षद सुशील गर्ग, पार्षद रितु गोयल, ज्वाइंट कमिश्नर संयम गर्ग, एसई विजय गोयल, चीफ सेनेटरी इंस्पेक्टर अविनाश सिंगला, एमई राजकुमार मौजूद रहे।