Teenager Murdered in Sultanpur : ई-रिक्शा लूटने के लिए की थी किशोर की हत्या, पुलिस ने आरोपितों को दबोचा
Teenager Murdered in Sultanpur

Teenager murdered in Sultanpur

ई-रिक्शा लूटने के लिए की थी किशोर की हत्या, पुलिस ने आरोपितों को दबोचा

Uttar Pradesh News |Teenager Murdered in Sultanpur | दलित वीरेंद्र कुमार (17) की हत्या का सुलतानपुर की कोतवाली देहात पुलिस ने खुलासा कर दिया है। दो आरोपी पकड़े गए हैं। जांच में पता चला है कि आरोपियों ने ई-रिक्शा लूटने के लिए घटना को अंजाम दिया था। पुलिस आज आरोपियों को जेल भेजेगी।

कोतवाली देहात की घटना

पुलिस के अनुसार अशोक कुमार गुप्ता पुत्र स्व सत्यनरायन गुप्ता निवासी ग्राम रुदौली थाना कोतवाली देहात व सूरज मौर्य पुत्र सुनील मौर्य निवासी भरखरे थाना लम्भुआ को गिरफ्तार किया गया है। इनके द्वारा बताया गया कि मृतक वीरेंद्र को दोस्ती के विश्वास में लिया। हम लोगो की नीयत मृतक के ई-रिक्शा पर थी। इस कारण रस्सी से गला घोंटकर ट्यूबवेल के अंदर हत्या कर साक्ष्य मिटाने के लिए शव को ट्यूबवेल के बाहर छिपा दिया। पुलिस ने भागते हुए इन्हें ज्ञानीपुर कन्हईपुर बाजार के पास से गिरफ्तार किया है। पुलिस अधीक्षक ने टीम को उत्साह वर्धन में 20 हजार रुपये नगद इनाम भी दिया है।

बगल के गांव में मिला था शव

बता दें कि मंगलवार को रुदौली गांव के बाहर नलकूप पर सुबह आठ बजे किशोर का शव देखा गया था। थोड़ी समय बाद बगल में खेत में एक ई-रिक्शा क्षतिग्रस्त अवस्था में मिला था। इससे यह आशंका जताई गई कि ई-रिक्शा चालक का शव है। शव की पहचान 6 KM दूर महेशुआ गांव वीरेंद्र कुमार कोरी (17) पुत्र जियालाल कोरी के रूप में हुई थी।

मृतक के पिता को है टीबी 

मृतक का पिता जियालाल ई-रिक्शा चलाकर परिवार का पेट पालता था। 6 महीने पहले उसकी तबियत बिगड़ी तो चिकित्सकों ने जियालाल को टीबी होना बताया। जिसके बाद वीरेंद्र सुबह स्कूल जाकर वापस लौटता और शाम को ई-रिक्शा चलाकर कुछ पैसे इकट्ठा कर परिवार चलाता था। इसी के बल पर वह अपने पिता का इलाज भी कराता था। परिजनों ने बताया कि वीरेंद्र सोमवार शाम से ही लापता था। जिसके बाद उन्होंने पुलिस में तहरीर दी थी।

पूरी खबर पढ़ें -   ई-रिक्शा लूटने के लिए की थी किशोर की हत्या, पुलिस ने आरोपितों को दबोचा