एकता विहार कॉलोनी के लोगों ने नगर काउंसिल अधिकारियों पर लगाए अवैध निर्माण करवाने के आरोप 
एकता विहार कॉलोनी के लोगों ने नगर काउंसिल अधिकारियों पर लगाए अवैध निर्माण करवाने के आरोप 

एकता विहार कॉलोनी के लोगों ने नगर काउंसिल अधिकारियों पर लगाए अवैध निर्माण करवाने के आरोप 

एकता विहार कॉलोनी के लोगों ने नगर काउंसिल अधिकारियों पर लगाए अवैध निर्माण करवाने के आरोप 

- 250 गज के दो प्लॉट में करवाई तीन रजिस्ट्रियां

- तहसीलदार की कार्यगुजारी पर भी उठे सवाल

अर्थ प्रकाश / मनिंदर मनौली 

जीरकपुर । एकता विहार बलटाना के लोगों ने वीरवार को जीरकपुर नगर काउंसिल के अधिकारियों पर कॉलोनियों में अवैध निर्माण करवाने के संगीन आरोप लगाए है। इस मामले में एक प्रैस कॉन्फ्रैंस कर प्रकाश चंद व उनके साथियों ने आरोप लगाया कि उनकी कॉलोनी में ढाई-ढाई सौ गज के प्लॉट की लाइन है, लेकिन प्लाट नंबर -158 और 159 के मालिकों द्वारा दो घर बनाने की जगह तीन छोटे-छोटे घर बनाए जा रहे है। उन्होंने आरोप लगाया कि ऐसा करने के साथ उनकी कॉलोनी की सुंदरता खराब हो जाएगी और पार्किंग इत्यादि में भी काफी समस्याओं का सामना करना पड़ेगा। उन्होंने आरोप लगाया कि 250 गज के दो प्लॉट में तीन रजिस्ट्रियां तहसीलदार की मिलीभुगत के साथ करवा ली गई है। उस उपरांत नगर काउंसिल जीरकपुर के अधिकारियों के साथ मिलकर तीन नक्शे भी पास करवा लिए गए है, जबकि नगर काउंसिल जीरकपुर की ओर से पास किए गए प्रस्ताव अनुसार बड़े प्लॉटों को छोटे प्लॉट में तबदील नहीं किया जा सकता। लेकिन फिर भी अधिकारियों की मिलीभुगत के साथ यह हेराफेरी की जा रही है। उन्होंने बताया कि उनके द्वारा कई बार इस संबंधी नगर काउंसिल जीरकपुर के ईओ गिरीश वर्मा को शिकायत की गई है, लेकिन उनके द्वारा कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गई। उनके द्वारा फिलहाल आरजी तौर पर काम रुकवा दिया गया है।

एकता विहार कॉलोनी का कोई लेआउट प्लाट अप्रूवड नहीं है। उसी कॉलोनी में कई छोटे मकान और कई बड़े मकान भी बने हुए है, जो नक्शे नगर काउंसिल ने पास किए है, वह सरकार की हिदायतोंं अनुसार ही पास किए गए है। इसके अलावा इस केस संबंधी रिपोर्ट बनाकर एडीसी मोहाली को भेज दी गई है, जो भी फैसला एडीसी मोहाली द्वारा किया जाएगा उस अनुसार बनती कार्रवाई की जाएगी।

गिरीश वर्मा, ईओ नगर काउंसिल जीरकपुर