मुख्यमंत्री द्वारा दिव्यांग व्यक्तियों के लिए समर्पित सैल गठित करने के हुक्म
मुख्यमंत्री द्वारा दिव्यांग व्यक्तियों के लिए समर्पित सैल गठित करने के हुक्म

मुख्यमंत्री द्वारा दिव्यांग व्यक्तियों के लिए समर्पित सैल गठित करने के हुक्म

मुख्यमंत्री द्वारा दिव्यांग व्यक्तियों के लिए समर्पित सैल गठित करने के हुक्म

दिव्यांग लोगों को राहत देने के उद्देश्य से लिया फ़ैसला

सिंगल विंडो प्लेटफार्म के तौर पर काम करेगा सैल

चंडीगढ़, 14 जुलाईः

    एक अहम फ़ैसला लेते हुये पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने दिव्यांग व्यक्तियों के कल्याण के लिए समर्पित तौर पर दिव्यांग सैल गठित करने के हुक्म दिए हैं। 

    यह जानकारी विस्तार में देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि समर्पित सैल के गठन को लेकर समाज के इस वर्ग की काफी देर की माँग थी। उन्होंने कहा कि दिव्यांग व्यक्तियों को उनके कल्याण के लिए सरकार की विभिन्न स्कीमों और प्रोग्रामों का लाभ लेने के लिए बहुत सी समस्याएँ पेश आतीं थीं। इसी तरह भगवंत मान ने कहा कि बहुत बार इन लोगों को अपने काम के लिए इधर-उधर भटकना पड़ता था। 

    मुख्यमंत्री ने कहा कि यह समर्पित सैल दिव्यांग व्यक्तियों के लिए सिंगल विंडो प्लेटफार्म के तौर पर काम करेगा जिससे वह कल्याण स्कीमों का अधिक से अधिक लाभ उठा सकें। इसी तरह मुख्यमंत्री ने कहा कि दिव्यांग व्यक्ति इस सैल के बारे अपनी शिकायत भी दर्ज करवा सकते हैं और इसके कामकाज को और कारगर बनाने के लिए अपने सुझाव भी दे सकते हैं। भगवंत मान ने कहा कि इस प्रयास से समाज के इस वर्ग के लोग अपना जीवन सम्मान से बसर करन के योग्य होंगे। 

    समाज के सभी वर्गों के कल्याण को यकीनी बनाने के लिए अपनी सरकार की वचनबद्धता को दोहराते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इस सम्बन्ध में कई ऐतिहासिक कदम उठाए गए हैं। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में भी उनकी सरकार यह यकीनी बनाऐगी कि सभी कल्याण स्कीमों का लाभ समयबद्ध ढंग से जरूरतमंद और कमज़ोर वर्गों तक पहुँचे। भगवंत मान ने कहा कि राज्य सरकार पंजाब की तरक्की और यहां के लोगों की ख़ुशहाली को यकीनी बनाने के लिए अथक कार्य कर रही है।