प्रेरणा को निखारने में हनुमान अखाड़े का रहा है अहम रोल
प्रेरणा को निखारने में हनुमान अखाड़े का रहा है अहम रोल

प्रेरणा को निखारने में हनुमान अखाड़े का रहा है अहम रोल

प्रेरणा को निखारने में हनुमान अखाड़े का रहा है अहम रोल

बददी  27  अगस्त। जिला सोलन के औद्योगिक नगर बददी की बेटी प्रेरणा मेहता ने राष्ट्र स्तरीय कुश्ती प्रतियोगिता में अपने वर्ग में गोल्ड मेडल जीतने पर शनिवार को हनुमान अखाड़े की ओर से उन्हें सम्मानित किया गया।अखाड़े के संचालक कुलदीप सिंह राणा ने कहा कि अभी हिमाचल में महिला पहवानवालों के लिए सुविधाओं का अभाव है। राष्ट्रीय स्तर पर मेडल जीतने वाले खिलाडिय़ों ओलंपिक तक जाने का मादा है लेकिन अब यह सुविधाओं के लिए सरकार की ओर से देख रहे है। बद्दी के होनहार महिला पहवालनों को उनके परिजन उन पर खर्चा कर रहे है लेकिन अब उनके भी हाथ खड़े हो गए है। सरकार जब इन्हें सुविधा मुहैया कराएगी तभी यह देश के लिए मेडल लेकर आएंगी। इस मौके पर कोच कमलेश, संजीव राणा, बालकिशन ने भी प्रेरणा को गोल्ड जीतने पर बधाई दी।

  बद्दी की हनुमान अखाडे की पहलवान प्रेरणा ने यूपी की पहलवान साक्षी को पटकनी देकर यह खिताब जीता है। हिमाचल की यह पहली महिला पहलवान है जिसने राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित प्रतियोगिता में गोल्ड जीता है। अब प्रेरणा अपने वर्ग में भारत की ओर से भी खेल सकती है। हरियाणा के रोहतक में हुए राष्ट्र स्तरीय प्रतियोगिता में हिमाचल की दस महिला पहलवानों ने भाग लिया था। जिसमें बददी की प्रेरणा मैहता ने 66 किलो वर्ग में भाग लिया। प्रेरणा ने पहले लीग मैच में दिल्ली, क्वार्टर  फाइनल में हरियाणा, सेमीफाइनल में महाराष्ट्र और फाइनल कुश्ती में यूपी को पराजित कर गोल्ड मेडल जीता है। इससे पहले प्रेरणा इससे पहले प्रेरणा ने अंडर 15, अंडर 17 में तीन कांस्य पदक  जीत चुकी है। इस मौके पर बेअंत ठाकुर, प्रेरणा मेहता के पिता और कोच महेंद्र मेहता भी उपस्थित रहे।