घर-द्वार पर बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने का प्रयास कर रही सरकारः सत्ती
घर-द्वार पर बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने का प्रयास कर रही सरकारः सत्ती

घर-द्वार पर बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने का प्रयास कर रही सरकारः सत्ती

घर-द्वार पर बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने का प्रयास कर रही सरकारः सत्ती

सामुदायिक भवन बसदेहड़ा में एक दिवसीय स्वास्थ्य मेले की सत्ती ने की अध्यक्षता

अग्रवाल 
ऊना, 22 अप्रैल:
आजादी के अमृत महोत्सव ओर आयुष्मान भारत योजना के तहत आज खंड स्तरीय स्वास्थ्य मेले का आयोजन सामुदायिक भवन बसदेहड़ा में किया गया। स्वास्थ्य मेले की अध्यक्षता छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने की। इस स्वास्थ्य मेले में 654 लोगों का पंजीकरण किया गया। 56 लोगों को स्वास्थ्य कार्ड व 5 लोगों को गोल्डन कार्ड जारी किए गए। 12 लोगों ने टेली मेडिसीन के माध्यम से टांडा के डॉक्टरों से चिकित्सीय सलाह की। इसके अतिरिक्त 54 लोगों के मोतिया बिंद स्क्रीनिंग, 19 व्यक्तियों का हाई बीपी तथा 34 लोगों के मधुमेह की जाचं की गई। इस अवसर पर रक्तदान शिविर भी आयोजित किया गया, जिसमें 15 लोगों ने रक्तदान किया। इस स्वास्थ्य मेले में पात्र लोगों को कोविड वैक्सीन की बूस्टर डोज़ लगाई गई।
इस मौके पर सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि लोगों को उनके घरद्वार पर स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करना सरकार प्रमुख उद्देश्य है। इसी के चलते पूर भारत वर्ष में 18 अप्रैल से खंड स्तर पर स्वास्थ्य मेले आयोजित किए जा रहे हैं। इसी के तहत ऊना जिला के बसदेहड़ा में आयोजित होने वाला यह चौथा खंड स्तरीय स्वास्थ्य मेला है तथा इससे पूर्व 19 अप्रैल को अंब, 20 अप्रैल को गगरेट व 21 अप्रैल को हरोली में स्वास्थ्य मेले आयोजित किए गए तथा 23 अप्रैल को बंगाणा में स्वास्थ्य मेला आयोजित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, जिसके लिए वह सभी बधाई के पात्र हैं।
सत्ती ने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने बजट 2022-23 में मुख्यमंत्री मोबाइल क्लीनिक चलाने की घोषणा की है, जो प्रत्येक विस क्षेत्र में घर-द्वार पर चिकित्सा सुविधा प्रदान करेगी। इस मोबाइल क्लीनिक में बेसिक स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए जरूरी उपकरण के साथ एक डॉक्टर भी तैनात किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस मोबाइल क्लीनिक से विशेष रूप से दूर-दराज के निवासियों का लाभ मिलेगा। 
सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा आयुष्मान योजना तथा प्रदेश सरकार द्वारा हिमकेयर योजना संचाजित की गई है। इस योजना के अंतर्गत लोगों को 5 लाख रूपये का निःशुल्क ईलाज़ करवाने का प्रावधान है। इसके अलावा गंभीर बीमारी से ग्रस्त गरीब मरीजों को प्रदेश सरकार सहारा योजना के तहत तीन हजार रुपए की मासिक पेंशन प्रदान करती है, ताकि वह आत्मसम्मान के साथ अपना जीवन जी सकें। उन्होंने बताया कि यह योजना आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के एकल परिवार में रहने वाले गंभीर बीमारियों से पीड़ित व्यक्ति को स्वास्थ्य सेवा के अतिरिक्त देखभाल के लिए कार्यान्वित की गई है।
इससे पूर्व मुख्य चिकित्सा अधिकारी ऊना डॉ. मंजू बहल ने छठे राज्यवित्तोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती का स्वागत किया तथा स्वास्थ्य विभाग द्वारा क्रियान्वित की जारी विभिन्न योजनाओं की विस्तापूर्वक जानकारी भी उपलब्ध करवाई।
स्वास्थ्य मेले में स्किन, ईएनटी, आईज़ तथा मेडिसन के विशेषज्ञ डॉक्टरों द्वारा लोगों को निःशुल्क चेकअप किया तथा दवाईयां वितरित की गई। इस मौके पर सतपाल सिंह सत्ती द्वारा सीएचसी संतोषगढ़, बसदेहड़ा व पीएचसी बसाल, बसोली, चलोला तथा देहलां के स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं, सफाई कर्मचारियों तथा कोविड के दौरान बेहतरीन काम करने वाले समाज सेवियों को सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर मंडलाध्यक्ष हरपाल सिंह गिल, निदेशक खादी बोर्ड सागर दत्त भारद्वाज, निदेशक कांगड़ा बैंक बलवंत ठाकुर, नगर परिषद अध्यक्ष अंजू वाला, उपाध्यक्ष अजय सोनी, बीजेपी शहरी ईकाई बसदेहडा के पंडित हरीश, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुखदीप सिंह सिधू, रिटायर्ड एमओएच डॉ निखिल शर्मा, कार्यकारी बीएमओ बसदेहड़ा जतिंद्र पाल सिंह, डॉ बलराम धीमान, समाज सेवी संजीव सोनी सहित एमसी मैहतपुर के पार्षदगण तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे