Factionalism again surfaced in Haryana Congress
Haryana-Congress-Sailja

Factionalism again surfaced in Haryana Congress

हरियाणा कांग्रेस में फिर सामने आई गुटबाजी, देखें क्या चल रहा मनमुटाव

चंडीगढ़। हरियाणा में कांग्रेस की गुटबाजी खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही है। मंगलवार को हरियाणा विधानसभा के विशेष सत्र से पहले कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुमारी सैलजा ने पार्टी कार्यालय चंडीगढ़ में बैठक बुलाई। बैठक में हरियाणा प्रभारी विवेक बंसल, कैप्टन अजय यादव भी उपस्थित हैं। जबकि पूर्व सीएम और विधायक दल के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने दिल्ली में दोपहर बाद विधायक दल की बैठक बुला ली है। ऐसे में चंडीगढ़ और एसवाईएल के मुद्दे पर फिर से हुड्डा और कुमारी सैलजा में मतभेद सामने आ गए हैं। इस तरह गुटबाजी फिर उभर कर सामने आ गई।

कुमारी सैलजा ने कहा कि आप और भाजपा में झूठ बोलने की होड़ लगी हुई है। पंजाब की आप सरकार ने असंवैधानिक ढंग से प्रस्ताव पास कराया। पंजाब कई बार प्रस्ताव पारित कर चुका है। कई कमीशन बैठे। हरियाणा को अपना हक मिलना चाहिए। आप ने लोगों को बरगलाया है। एसवाईएल, चंडीगढ़ के मुद्दे को लेकर कांग्रेस 7 अप्रैल को चंडीगढ़ में प्रदर्शन करेगी और राज्यपाल को ज्ञापन देगी। विधानसभा में विधायक दल के नेता कांग्रेस का स्टैंड क्लीयर करेंगे। सरकार को कठघरे में खड़ा करना है। कांग्रेस यह लड़ाई लड़ेगी।

कुमारी सैलजा ने कहा कि अरविंद केजरीवाल को अपना स्टैंड क्लीयर करना होगा। हरियाणा के सीएम मनोहर लाल कभी इस मामले पर पीएम से नहीं मिलें। सीएम अंगुली कटवाकर शहीद होना चाहते हैं। सीएम ने अब सेशन बुला लिया। हम तीनों बातों की डिमांड करते हैं। कांग्रेस 11 से 13 अप्रैल तक जिला मुख्यालय में इन मुद्दों को लेकर जनता को जागरूक करेगी। सैलजा ने कहा कि एसवाईएल पर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय को लागू करवाया जाए।

हरियाणा प्रभारी विवेक बंसल ने कहा कि पंजाब में आप सरकार विधानसभा में चंडीगढ़ को लेकर प्रस्ताव पास कर रही है। जबकि हरियाणा में आप प्रभारी सुशील गुप्ता राजनीति कर रहे हैं। आप नेताओं को इस पर स्टैंड क्लीयर करना चाहिए। चंडीगढ़ से छेड़छाड़ हरियाणा के लोग बर्दाश्त नहीं करेंगे। हरियाणा कांग्रेस का स्टैंड है कि चंडीगढ़ का जो मौजूदा स्टैंड है, उसे वैसा ही रहने देना चाहिए। पार्टी में गुटबाजी के सवाल को टालते हुए विवेक बंसल ने कहा कि उनके साथ जो पांच विधायक बैठे हैं, उनके पारिवारिक कारणों के कारण दिल्ली विधायक दल की बैठक में नहीं पहुंचे। दिल्ली में विधायक दल की मीटिंग हो रही है, वहां पर भी हमारे विधायक केंद्र सरकार तक अपनी बात पहुंचा रहे हैं। हरियाणा प्रभारी ने कहा कि जल्द ही पार्टी संगठन खड़ा करेगी।