Disclosure of ADR: There was a lot of money rain on political parties even during the Corona period
Indian-Currency-1

Disclosure of ADR: There was a lot of money rain on political parties even during the Corona period

एडीआर का खुलासा : कोरोना काल में भी राजनीतिक दलों पर खूबर हुई धनवर्षा

शिमला। कोरोना ने जहां एक तरफ पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है और 2020-21 में देश में कोरोना की वजह से काफी बुरा दौर देखा गया। लेकिन राजनीतिक दलों पर इस बुरे दौर में भी खूब धनवर्षा हुई है। खासकर भारतीय जनता पार्टी को दानवीरों ने खूब सारा चंदा दान किया है। एसोसिएशन फोर डेमोक्रेटिक रिफोर्म (एडीआर) द्वारा वीरवार को जारी ताजा रिपोर्ट के मुताबिक स्वयं राजनीतिक दलों ने सूचना देकर विभिन्न माध्यम से मिले फंड की जानकारी साझा की है।

राजनीतिक दलों ने बटोरा 593.748 करोड़ रुपए का चंदा

रिपोर्ट के मुताबिक वित्त वर्ष 2020-21 में जब कोरोना पीक पर था, तो उस दौरान कुल 593.748 करोड़ का चंदा राजनीतिक दलों को मिला है। इसमें अकेले भाजपा  को 477.545 करोड़ चंदा मिला है। यानी 80 फीसदी से ज्यादा चंदा भाजपा को ही मिला है, जो छह राष्ट्रीय राजनीतिक दलों (एनसीपी, सीपीआई, सीपीआई (एम)) कांग्रेस, एनपीई और तृणमूल ) को मिले चंदे की तुलना में चार गुणा ज्यादा है।

3753 ने दिया 20 हजार से अधिक का चंदा

एडीआर की रिपोर्ट बताती है कि 2020-21 में 20 हजार रुपए से ज्यादा का चंदा 3753 व्यक्तियों व प्रतिष्ठानों ने दिया है। इनमें से भाजपा को 2206 ने चंदा दिया है। वहीं कांग्रेस पार्टी को 1077 व्यक्ति व प्रतिष्ठानों ने 74.524 करोड़ रुपए चंदा दिया है,जो भाजप की तुलना में लगभग 15 प्रतिशत है।

एनसीपी को 20 हजार रुपए से ज्यादा का चंदा 79 लोगों व प्रतिष्ठानों ने, सीपीएम को 226 ने, सीपीआई को 124, एनपीईपी को 15 और एआईटीसी को 26 ने 20 हजार से ज्यादा का चंदा दिया है।

भारत चुनाव आयोग ने सभी दलों को आय एवं खर्च का ब्यौरा देना अनिवार्य कर रखा है। बहुजन समाजवादी पार्टी को छोड़कर किसी भी दल ने निर्धारित समय में इसकी जानकारी निर्वाचन आयोग को साझा नहीं की। एडीआर के मुताबिक कांग्रेस ने 10 दिन से आय का ब्योरा दिया है, जबकि ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस ने 117 दिन देरी से, सीपीआइएम ने 136 दिन, नेशनल पीपल पार्टी ने 137 दिन, इंडियन नेशनल पार्टी ने 161 दिन, भारतीय जनता पार्टी ने 164 दिन और सीपीआई ने 178 दिन बाद ब्योरा दिया है।