अवैध रूप से कॉलोनी कटी, अवैध रूप से प्लाट बेचे और अवैध रूप से निर्माण कार्य हुआ शुरू
BREAKING
जोशी ने गांव बड़ी करौर में रेत माफिया के हमले में घायल लोगों का कुशल-क्षेम जाना एमटीवी स्प्लिट्सविला एक्स 5 - एक्सयूज़ मी प्लीज़ के प्रतियोगी लक्ष्य, उन्नति और दिग्विजय राठी चंडीगढ़ में अपने फैन्स से मिले!* चंडीगढ़ प्रशासन द्वारा गांव रायपुर खुर्द में चलाई जा रही अवैध निर्माण पर कार्रवाई का स्थानीय लोगों द्वारा जबरदस्त विरोध केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद का यूपी में एक्सीडेंट; अपने संसदीय क्षेत्र के दौरे पर निकले थे, तेज रफ्तार गाड़ी ने पीछे से मारी कार में टक्कर गुजरात के स्कूल में खौफनाक हादसा; क्लासरूम में लंच कर रहे थे बच्चे, अचानक गिर पड़ी दीवार, वीडियो में कैद पूरा मंजर देखिए

अवैध रूप से कॉलोनी कटी, अवैध रूप से प्लाट बेचे और अवैध रूप से निर्माण कार्य हुआ शुरू

Colony was Cut Illegally

Colony was Cut Illegally

-गांव छत में नगर कौंसिल जीरकपुर ने अवैध निर्माणों पर चलाया पीला पंजा

राजेश गर्ग 
जीरकपुर । Colony was Cut Illegally: 
जीरकपुर के नजदीकी गांव छत में आज नगर कौंसिल जीरकपुर द्वारा एक बड़ी कार्रवाई करते हुए शुरू किए गए अवैध निर्माण पर पीला पंजा चलाया। इस संबंधी अधिक जानकारी लेने के लिए नगर कौंसिल जीरकपुर के बिल्डिंग इंस्पेक्टर सरबजीत सिंह को बार-बार फोन करने पर उन्होंने फोन नहीं उठाया। इसके बाद जब नगर कौंसिल जीरकपुर के एसडीओ सुखविंदर सिंह के बात की तो उन्होंने बताया कि रिकॉर्ड के अनुसार गांव छत में हरिजन कमेटी के 11 सदस्यों के नाम पर एक जमीन थी जिसकी कोई भी रजिस्ट्री नहीं थी और उनके नाम पर इस जमीन की गिरदावरी की हुई है। उन 11 सदस्यों की मृत्यु हो जाने के बाद अब उनके बच्चों ने उसे जमीन पर कब्जा करके अवैध कॉलोनी काटकर उसके प्लाट बेचने शुरू कर दिए और लोगों ने अपनी मेहनत की कमाई इन प्लाटों को खरीदने में लगानी शुरू कर दी और बिना रजिस्ट्री करवाए ही फूल और फाइनल पेमेंट का एग्रीमेंट बनवाकर लोगों ने प्लाट खरीद लिए और उनमें अपने मकान बनाने भी शुरू कर दिए। जिनका नगर कौंसिल जीरकपुर से कोई नक्शा भी पास नहीं करवाया गया। उन्होंने आगे बताया के आज नगर कौंसिल की टीम ने इस कॉलोनी में बिना नक्शा पास करवाए दो प्लाटों में भरी गई नींव को उखाड़ दिया और एक प्लाट में नींव खोदी गई थी उनको मिट्टी डालकर भर दिया गया। 

इस संबंधी मौके पर मौजूद प्लाट के खरीददारों ने कहा के उन्होंने जानकारी न होने के चलते अपनी जिंदगी की खून पसीने की कमाई यहां पर प्लाट खरीदने में लगा दी है और वह गरीब लोग हैं। अब कानून के मुताबिक वह यहां पर अपना मकान नहीं बना सकते। उन्होंने प्रशासन से मांग की है कि ऐसे धोखाधड़ी करके प्लाट बेचने वालों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए और उनके पैसे उनको वापस दिलाए जायें।

यह पढ़ें:

पंजाब में एनकाउंटर; लॉरेंस गैंग के गैंगस्टरों के साथ पुलिस की मुठभेड़ हुई, जवाबी कार्रवाई में 2 को गिराया, 1 पुलिसकर्मी बाल-बाल बचा

सामान्य रक्त कैंसर का कारण बन सकते हैं हेपेटाइटिस-बी और सी वायरस

Punjab: स्थानीय निकाय मंत्री बलकार सिंह ने सिटी ब्यूटी मुकाबले के विजेताओं को किया सम्मानित