Bhatta

CM फ्लाइंग की रेड, रेवाड़ी में 2 ईंट भट्ठे सील, देखें क्या है मामला

रेवाड़ी। CM Flying Key Raid: हरियाणा के रेवाड़ी में मुख्यमंत्री उडऩ दस्ते ने 2 ईंट भट्ठों पर छापेमारी की। इस दौरान दोनों ही ईंट भट्ठे अवैध रूप से संचालित पाए गए। जिसके बाद ईंट भट्ठों को सील कर दिया गया है। साथ ही भट्ठा संचालकों के खिलाफ बावल थाना में केस भी दर्ज किया गया है।
 

मिली जानकारी के अनुसार, मुख्यमंत्री उडऩ दस्ते को गुप्त सूचना मिली थी कि रेवाड़ी जिले के कस्बा बावल के गांव रसियावास में संचालित मैसर्स भृर्तहरि ब्रिक्स कंपनी भट्ठा और चौधरी मातादीन भट्ठा कंपनी दोनों ही अवैध रूप से चल रहे है। सूचना के बाद मुख्यमंत्री उन दस्ते के उपनिरीक्षक सतेन्द्र सिंह (Satendra Singh)  ने निरीक्षण खाद्य एवं आपूर्ति विभाग गजेन्द्र सिंह, खनन विभाग निरीक्षक कुमारी आरजू, प्रदूषण बोर्ड के एईई हरीश कुमार के साथ मिलकर दोनों ही ईंट भट्ठों पर छापेमारी की।
 

चौधरी मातादीन भट्ठा कंपनी पर मुनीम अलवर जिले के गांव गहणकर निवासी अमीचंद मिला, जिससे भट्ठे से संबंधित लाईसैंस मांगा तो वह पेश नहीं कर पाया। जांच की तो पता चला कि भट्ठे का लाईसैंस 24 सितंबर 2013 को रद्द हो चुका है। भट्ठे को रसियावास गांव का सुरेन्द्र संचालित कर रहा है। भट्ठे पर 10 लाख ईंट भी तैयार मिली, जिसमें 6 लाख कच्ची ईंटें शामिल थी।
 

भट्ठे का लाईसैंस 15 मई 2018 को हो चुका है रद्द 
इसी तरह मैसर्स भृर्तहरि ब्रिक्स कंपनी के भट्ठे पर मुनीम बलजीत सिंह मिला। वह भी भट्ठे से संबंधित कोई दस्तावेज नहीं पेश कर रहा। इस भट्ठे को गांव रसियावास का रघुवीर सिंह संचालित करता पाया गया, जबकि भट्ठे का लाईसैंस 15 मई 2018 को रद्द हो चुका है। मुख्यमंत्री उन दस्ते की शिकायत पर बावल थाना पुलिस ने दोनों भट्ठा संचालकों के खिलाफ दी हरियाणा कंट्रोल ऑफ ब्रिक्स सप्लाई एक्ट सेक्शन 11 के तहत केस दर्ज किया है।