Transport Minister : परिवहन मंत्री ने राज्य में मोटर वाहन इंस्पेक्टरों के सभी 11 पदों पर नियुक्त किए अधिकारी
Transport Minister

परिवहन मंत्री ने राज्य में मोटर वाहन इंस्पेक्टरों के सभी 11 पदों पर नियुक्त किए अधिकारी

परिवहन मंत्री ने राज्य में मोटर वाहन इंस्पेक्टरों के सभी 11 पदों पर नियुक्त किए अधिकारी

Transport Minister : चंडीगढ़, 27 अगस्त: पंजाब में पुराने वाहनों के फिटनेस सर्टिफ़िकेट जारी करने और पासिंग के काम के दिनों-दिन बढ़ रहे बोझ को घटाते हुए परिवहन मंत्री लालजीत सिंह भुल्लर ने राज्य के सभी 11 पदों पर मोटर वाहन इंस्पेक्टरों (एम.वी.आई.) की तैनाती कर दी है।  

कैबिनेट मंत्री ने बताया कि राज्य के 23 ज़िलों में 11 आर.टी.एज. के अधीन केवल 4 एम.वी.आई. ही पुराने वाहनों को फिटनेस सर्टीफ़िकेट जारी करने और पासिंग का काम संभाल रहे थे, जिससे आर.टी.ए. दफ्तरों में काम की चाल सुस्त होने के कारण फाइलों के ढेर लगे होने की खबरें मिल रही थीं। इसलिए काम के बोझ को घटाने और ज़्यादा पारदर्शिता लाने के लिए विभाग में अंदरूनी प्रबंध करते हुए पंजाब रोडवेज़ से सटाफ लेकर एम.वी.आई. के सभी पदों पर अधिकारी तैनात कर दिए गए हे।
-     वाहनों के फिटनैस सर्टिफ़िकेट के काम में तेज़ी लाने के लिए लिया फ़ैसला


       उन्होंने कहा कि अब 11 आर.टी.एज. कार्यालयों के अधीन 11 एम.वी.आई. काम करेंगे और इन पदों पर विभाग के मेहनती अधिकारियों को तैनात किया गया है। उन्होंने कहा कि अब लोगों को विभाग की सेवाओं की तुरंत डिलीवरी मिल सकेगी।  

कैबिनेट मंत्री ने बताया कि पहले तैनात अधिकारियों के अलावा अब एम.वी.आई. प्रीतइन्दर अरोड़ा ज़िला फ़रीदकोट, श्री मुक्तसर साहिब, मोगा, बठिंडा और मानसा का काम देखेंगे, जबकि एम.वी.आई. सुखविन्दर सिंह ज़िला फ़ाज़िल्का और फ़िरोज़पुर, एम.वी.आई. मैरिक गर्ग ज़िला लुधियाना, एम.वी.आई. गुरिन्दर सिंह ज़िला जालंधर और कपूरथला, एम.वी.आई. लीला सिंह ज़िला गुरदासपुर, एम.वी.आई. मधु पुष्प ज़िला पठानकोट, एम.वी.आई. नवदीप सिंह ज़िला अमृतसर और तरन तारन और एम.वी.आई. जसप्रीत सिंह ज़िला संगरूर, मलेरकोटला और बरनाला का काम देखेंगे।  

मुख्यमंत्री स. भगवंत सिंह मान की भ्रष्टाचार के विरुद्ध शुन्य सहनशीलता पर ज़ोर देते हुए परिवहन मंत्री ने कहा कि भ्रष्टाचार में लिप्त पाए गए किसी भी अधिकारी या कर्मचारी को बिल्कुल भी बख़्शा नहीं जाएगा। उन्होंने विभाग के अधिकारियों को पुनः सचेत किया कि वह ईमानदारी से अपना कर्तव्य निभाएं।