सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में गैंगस्टरों की लिस्ट कितनी लंबी? Punjab से अब यह गैंगस्टर आया सामने, पुलिस ने लॉरेंस बिश्नोई से आमना-सामना करवाया
Singer Sidhu Moose Wala Murder Gangsters list

Singer Sidhu Moose Wala Murder Gangsters list

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में गैंगस्टरों की लिस्ट कितनी लंबी? Punjab से अब यह गैंगस्टर आया सामने, पुलिस ने लॉरेंस बिश्नोई से आमना-सामना करवाया

Singer Sidhu Moose Wala Murder : सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड का मामला अबतक सुलझ नहीं पाया है| इस हत्याकांड की जिम्मेदारी गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई गैंग ने ली है| मूसेवाला हत्याकांड में शामिल गैंगस्टरों का पता लगाने के लिए अब लॉरेंस बिश्नोई को ही दिल्ली की तिहाड़ जेल से पंजाब लाया गया है| जहां उससे पूक्षताक्ष की जा रही है कि सिद्धू मूसेवाला को मारने में कौन-कौन गैंगस्टर शामिल थे और वह कहां हैं? पंजाब पुलिस को लॉरेंस बिश्नोई की सात दिन की रिमांड मिली है|

बताया जाता है कि, पूक्षताक्ष में लॉरेंस बिश्नोई ने एक गैंगस्टर का नाम लिया है| जिसका नाम गैंगस्टर गोरा बताया जाता है| गैंगस्टर गोरा होशियारपुर जेल में बंद था| जिसे अब पूछताछ के लिए बाहर लाया गया है| बताया जा रहा है कि गैंगस्टर गोरा को लॉरेंस बिश्नोई के सामने बिठाया गया है और उससे पूछताछ की गई है| गैंगस्टर गोरा कनाडा बैठे गैंगस्टर गोल्डी बराड़ का जीजा है। ध्यान रहे कि, लॉरेंस बिश्नोई के पुलिस गिरफ्त में होने के चलते गोल्डी बराड़ ही पूरा गैंग चला रहा है| मूसेवाला की हत्या के बाद गोल्डी बराड़ ने फेसबुक पर पोस्ट डालकर कहा था कि उसने ही सिद्धू को मरवा दिया है|

लॉरेंस बिश्नोई के अलावा और भी कई पुलिस गिरफ्त में ...

बतादें कि, एक तरफ जहां लॉरेंस बिश्नोई से मामले को लेकर पूक्षताक्ष जारी है तो वहीं सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में शामिल गैंगस्टरों की मदद करने वालों को पुलिस ने पकड़ रखा है| पुलिस इनसे पूक्षताक्ष के आधार पर भी हत्या में आगे की कड़ियों को खोल रही है| बरहाल, पुलिस हर प्रकार से मामले को सुलझाने की कोशिश में लगी हुई है|

28 साल की उम्र में हुई सिद्धू मूसेवाला की हत्या  ....

ज्ञात रहे कि, 29 मई को 28 साल के सिद्धू मूसेवाला (Punjab Famous Singer Sidhu Moose Wala) की मानसा जिले के जवाहर गांव के नजदीक हत्या कर दी गई थी| कारों में सवार होकर आये बदमाशों ने सिद्धू मूसेवाला को गोलियों से छलनी-छलनी कर डाला था| बदमाशों ने सिद्धू मूसेवाला की थार गाड़ी पर साइड और सामने से कई राउंड फायर किये थे| स्थिति का अंदाजा आप इसी से लगा सकते हैं कि बदमाशों ने सिद्धू को सीट से हिलने तक का मौका नहीं दिया| सिद्धू सीट पर बैठे के बैठे रह गए|