शिक्षा के प्रति समर्पण भावना से साथ कार्य करते हुये सेवा निवृत्त
शिक्षा के प्रति समर्पण भावना से साथ कार्य करते हुये सेवा निवृत्त

शिक्षा के प्रति समर्पण भावना से साथ कार्य करते हुये सेवा निवृत्त

शिक्षा के प्रति समर्पण भावना से साथ कार्य करते हुये सेवा निवृत्त

यमुनानगर, 30 अप्रैल (आर. के. जैन):

गुरु नानक खालसा कॉलेज के समाज कार्य विभाग के अध्यक्ष और एसोसिएट प्रोफेसर डा. आनंद प्रकाश मिश्र लगभग 30 वर्षों की शानदार सेवा करने के बाद शनिवार को सेवा निवृत्त हो गए। डा. मिश्र की विदाई के इस अवसर पर विभाग के स्नातक एवं स्नातकोत्तर कक्षाओं के विद्यार्थियों ने संयुक्त रूप से शानदार विदाई समारोह का आयोजन किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए प्राचार्य डा. मेजर हरिन्दर सिंह कंग ने कहा कि 1992 मे डा. आनंद कॉलेज आए, तब से लेकर अब तक कॉलेज प्रबंधन और प्रशासन ने जो भी जिम्मेदारी इन्हें और इनके साथियों को दी, हर जिम्मेदारी इन्होने ईमानदारी और परिश्रम से करते हुए सबके सामने उदाहरण प्रस्तुत किया। डा. कंग ने डा. मिश्र के मंगल जीवन की कामना करते हुए उनके उज्ज्वल, सुखद, प्रसन्न और स्वस्थ भविष्य के लिए शुभकामनाएं देते हुए बधाई दी। मौके पर उपस्थित विद्यार्थियों ने डा. मिश्र के सम्मान मे अनेक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए तथा अपने अपने संस्मरण भी प्रस्तुत किए, जिन्हें देख व सुन कर डा. मिश्र भाऊक हो गए। मौके पर उन्होंने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए बताया कि उन्हें कॉलेज परिवार से हमेशा हर प्रकार का सहयोग मिला। यही कारण है कि वह अपनी हर जिम्मेदारी को ठीक ढ़ंग से पूरा कर पाए। उन्होंने पूरे आयोजन के लिए विद्यार्थियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि आपका विषय आपको सरकारी, निजि व स्वरोजगार के लिए सौ प्रतिशत कुशल बनाता है। इसे केवल पास होने के लिए ही न पढ़ें, बल्कि आत्म निर्भर बन कर पीडि़त मानवता की सेवा के लिए समाज कार्य विषय का सदुपयोग करें। प्रबंध समिति के अध्यक्ष सरदार रणदीप सिंह जौहर ने भी डा. आनंद प्रकाश मिश्र के सेवानिवृत्त होने पर बधाई और शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर डा. साहिब सिंह, डा. हेमंत मिश्र, प्रो. अनिका शर्मा सहित समाज कार्य विभाग के सभी विद्यार्थी भी उपस्थित थे।