भगवंत मान सरकार द्वारा 25 से 30 जुलाई तक बिजली क्षेत्र की उपलब्धियों संबंधी सप्ताहभर जश्न मनाने के लिए तैयारियाँ पूरी
भगवंत मान सरकार द्वारा 25 से 30 जुलाई तक बिजली क्षेत्र की उपलब्धियों संबंधी सप्ताहभर जश्न मनाने के लिए तैयारियाँ पूरी

भगवंत मान सरकार द्वारा 25 से 30 जुलाई तक बिजली क्षेत्र की उपलब्धियों संबंधी सप्ताहभर जश्न मनाने के ल

भगवंत मान सरकार द्वारा 25 से 30 जुलाई तक बिजली क्षेत्र की उपलब्धियों संबंधी सप्ताहभर जश्न मनाने के लिए तैयारियाँ पूरी

पंजाब द्वारा उज्ज्वल भारत-उज्ज्वल भविष्य सप्ताह के जश्नों के लिए 23 जिलों में 46 स्थानों और ग्रैंड फिनाले के लिए 5 स्थानों का चयन

चंडीगढ़, 22 जुलाईः

उपभोक्ताओं को 24 घंटे गुणवत्तापूर्ण बिजली मुहैया करने और राष्ट्रीय स्तर पर बिजली क्षेत्र की उपलब्धियों को प्रदर्शित करने के उद्देश्य को हासिल करने के यत्नों के अंतर्गत, मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार उज्ज्वल भारत-उज्ज्वल भविष्य और पावर@2047 के जश्नों को बड़े स्तर पर मनाने के लिए विशेष कार्य योजना लागू करने के लिए पूरी तरह तैयार है। केंद्रीय बिजली मंत्रालय द्वारा आज़ादी का अमृत महोत्सव के हिस्से के तौर पर 25 से 30 जुलाई तक देशभर के सभी जिलों में उज्ज्वल भारत-उज्ज्वल भविष्य और पावर@2047 को बड़े स्तर पर मनाने का फ़ैसला लिया गया है।
 
केंद्रीय बिजली और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री श्री आर. के. सिंह के साथ कल शाम को हुई मीटिंग के दौरान बातचीत करते हुए पंजाब के बिजली मंत्री हरभजन सिंह ने केंद्रीय मंत्री को बताया कि पंजाब इस प्रोग्राम को बड़े स्तर पर मनाने के लिए पूरी तरह तैयार है। उन्होंने आगे बताया कि सप्ताह भर चलने वाले समारोहों के लिए राज्य के 23 जिलों में 46 स्थानों की पहचान की गई है और 30 जुलाई को ग्रैंड फिनाले के दौरान प्रधानमंत्री पंजाब के बिजली क्षेत्र में सुधार संबंधी संगरूर पटियाला, जालंधर, अमृतसर और तरनतारन जिलों के पहचाने गए 5 लाभार्थीयों के साथ बातचीत करेंगे।

भगवंत मान सरकार द्वारा 25 से 30 जुलाई तक बिजली क्षेत्र की उपलब्धियों संबंधी सप्ताहभर जश्न मनाने के लिए तैयारियाँ पूरी
 
मीटिंग के दौरान बिजली मंत्री हरभजन सिंह ई.टी.ओ. ने पंजाब के बिजली क्षेत्र में सुधार के लिए ख़ास तौर पर धान के सीजन के दौरान किसानों को निर्विघ्न बिजली की आपूर्ति करने संबंधी मुख्यमंत्री पंजाब स. भगवंत मान के सपनों और योजनाओं पर प्रकाश भी डाला। उन्होंने पंजाब की बिजली आयात क्षमता को 8500 मेगावाट तक बढ़ाने और राज्य में 14,000 मेगावाट से अधिक बिजली आपूर्ति की माँग को पूरा करने का कीर्तिमान स्थापित करने के लिए पंजाब को दी गई सहायता के लिए केंद्रीय बिजली मंत्री का धन्यवाद किया। उन्होंने केंद्रीय मंत्री को पंजाब की पछवाड़ा कोयला खान से जुड़े कुछ स्थानीय मुद्दों को हल करने के लिए दख़ल देने की भी विनती की।
 
केंद्रीय बिजली मंत्री ने पंजाब द्वारा बिजली क्षेत्र में हाल ही में की गई प्रगति ख़ासकर बिजली क्षमता बढ़ाने और मौजूदा धान/गर्मी के मौसम के दौरान निर्विघ्न आपूर्ति प्रदान करने की सराहना की। केंद्रीय मंत्री श्री आर. के. सिंह ने पंजाब में बिजली क्षेत्र को और मज़बूत करने के लिए रीवैंप्ड डिस्ट्रीब्यूशन सेक्टर स्कीम, पछवाड़ा कोयला खान और बिजली क्षेत्र संबंधी पंजाब को हर संभव सहायता का भरोसा दिया।