Operation Assault-2: एक्शन में दिखी हरियाणा पुलिस, बदमाशों व अवैध गतिविधियों के खिलाफ चला ’ऑपरेशन आक्रमण-2‘
Operation Assault-2

Operation Assault-2: एक्शन में दिखी हरियाणा पुलिस, बदमाशों व अवैध गतिविधियों के खिलाफ चला ’ऑपरेशन आक

Operation Assault-2: एक्शन में दिखी हरियाणा पुलिस, बदमाशों व अवैध गतिविधियों के खिलाफ चला ’ऑपरेशन आक्रमण-2‘

3500 जवानों ने मारे छापे, 710 एफआईआर दर्ज, 964 को पकड़ा, अवैध हथियार व नशा बरामद

चंडीगढ़, 6 सितंबर - Operation Assault-2: हरियाणा पुलिस द्वारा बदमाशों की धरपकड़ के लिए एक दिन का विशेष अभियान ‘ऑपरेशन आक्रमण- 2(Operation Assault-2)‘ चलाया गया। इसके तहत पुलिस ने समस्त राज्य में दिनभर व्यापक छापेमारी करते हुए आईपीसी(IPC), एनडीपीएस(NDPS), एक्साइज(excise) और आर्म्स एक्ट(Arms Act) आदि की संबंधित धाराओं के तहत 710 केस दर्ज करके 964 आरोपियों को गिरफ्तार किया।

 पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) हरियाणा श्री प्रशांत कुमार अग्रवाल ने आज इस संबंध मंे जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस द्वारा 5 सितंबर को चलाए गए इस अभियान का उद्देश्य आपराधिक तत्वों के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई करना, स्ट्रीट क्राइम व अवैध हथियारों पर अंकुश लगाना, अवैध शराब की धरपकड़ सहित मादक पदार्थों की तस्करी पर शिकंजा कसना है। इस अभियान में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने व्यक्तिगत रूप से भागीदारी करते हुए आपराधिक तत्वों पर पूरी कार्रवाई की बारीकी से निगरानी की।

 उन्होंने कहा कि हम प्रत्येक जिले में बदमाशों व असामाजिक तत्वों के भागने की गुंजाइश छोड़े बिना उन पर नकेल कसने के लिए उनके इलाकों/सड़कों/घरों मंे अचानक रेड कर अपराधियों के अंदर कानून का भय पैदा करना चाहते हैं।

Operation Assault-2: 645 टीमों ने कई स्थानों पर रेड की

 विभिन्न जिलों से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार फील्ड में लगभग 3500 पुलिस कर्मियों की 645 टीमों ने कई स्थानों पर रेड की। छापेमारी के दौरान रेडिंग टीमों ने 45 उद्घोषित अपराधियों और 34 बेल जंपर्स को काबू करने में भी कामयाबी हासिल की। पकडे़ गए ये बदमाश कई मामलों में वांछित थे और गिरफ्तारी से बचने के लिए फरार चल रहे थे।

 जहां पानीपत जिले में सर्वाधिक 116 आरोपी गिरफ्तार हुए वहीं गुरुग्राम में 108 और अंबाला में 102 को काबू किया गया। इसी प्रकार, सर्वाधिक 24 पीओ और बेल जंपर्स सोनीपत जिले में दबोचे और 9 को पानीपत से गिरफ्तार किया गया।

 इसी प्रकार आर्म्स एक्ट के तहत गिरफ्तार आरोपियों के कब्जे से 67 अवैध हथियार और 36 कारतूस बरामद किए गए। साथ ही पुलिस टीमों ने 409.32 ग्राम हेरोइन, 488 ग्राम चरस, 13.5 किलो गांजा, 75 ग्राम अफीम, 31.1 ग्राम स्मैक, 9.02 किलो चूरा पोस्त, 6 नशीले इंजेक्शन और 90 प्रतिबंधित गोलियां भी बरामद की।

शराब तस्करों पर नकेल कसते हुए पुलिस टीमों ने 3910 बोतल देशी शराब, 5240 बोतल अंग्रेजी शराब, 1786 बोतल बीयर, 1671 लीटर लिसिट, 330 लीटर अवैध नकली शराब और 2073 लीटर लाहन जब्त किया।

Operation Assault-2: आरोपियों के कब्जे से 9.27 लाख रुपये से अधिक की नकदी भी बरामद

पुलिस ने जुआ अधिनियम के तहत गिरफ्तार आरोपियों के कब्जे से 9.27 लाख रुपये से अधिक की नकदी भी बरामद की। इसके अतिरिक्त, विशेष कार्रवाई के तहत नूंह जिले में अवैध खनन में लगे 25 डंपरों को भी जब्त किया।

डीजीपी ने बताया कि पुलिस टीमों द्वारा किसी भी प्रकार की अवैध गतिविधियों, उपकरणों और अन्य वस्तुओं की जांच के लिए प्रदेश के जेल परिसरों में भी छापेमारी की गई। विशेष अभियान का आंकलन करते हुए उन्होंने इसे अपराधियों के खिलाफ पुलिस की कड़ी कार्रवाई और आम जनता के बीच कानून में विश्वास को और मजबूती देने की दिशा में एक कदम बताया। उन्होंने कहा कि भविष्य में भी इस तरह का विशेष अभियान जारी रहेगा।

 उल्लेखनीय है कि ‘ऑपरेशन  आक्रमण  ‘ आपराधिक व असामाजिक तत्वों के ठिकानों पर एक साथ छापेमारी करने का एक विशेष राज्य स्तरीय अभियान है। इसके तहत छापेमारी करने वाली पुलिस टीमों का गठन किया गया है। पुलिस की ये टीमें आपराधिक तत्वों को फरार होने की गुंजाइश छोड़े बिना उन पर अंकुश लगाने हेतु संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हैं।