भारतीय वायु सेना ने जारी किये अग्निपथ भर्ती योजना के डिटेल्स, इंश्योरेंस और सेवा निधि पैकेज सहित इन सुविधाओं का मिलेगा लाभ
भारतीय वायु सेना ने जारी किये अग्निपथ भर्ती योजना के डिटेल्स

भारतीय वायु सेना ने जारी किये अग्निपथ भर्ती योजना के डिटेल्स, इंश्योरेंस और सेवा निधि पैकेज सहित इन

भारतीय वायु सेना ने जारी किये अग्निपथ भर्ती योजना के डिटेल्स, इंश्योरेंस और सेवा निधि पैकेज सहित इन सुविधाओं का मिलेगा लाभ

भारतीय सेनाओं में भर्ती ( Indian Army IAF Navy Recruitment 2022 ) अब अग्निपथ योजना से होगी। भारतीय वायु सेना ने 'अग्निपथ' भर्ती योजना को लेकर रविवार को नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। अग्निपथ योजना सशस्त्र बलों में चार साल की अल्पकालिक सेवा मुहैया कराती है। जारी विज्ञप्ति के अनुसार, योजना के लिए न्यूनतम उम्र साढ़े 17 वर्ष और अधिकतम उम्र सीमा 21 साल है। वायुसेना अग्निवीर का चार साल की ट्रेनिंग के दौरान 48 लाख रुपये का मेडिकल इंश्योरेंस रहेगा। आगे जानें क्या-क्या मिलेगा अग्निवीरों को- 

- हर अग्निवीर को भर्ती के पहले साल 30 हजार महीने सैलरी मिलेगी। दूसरे साल अग्निवीर की तनख्वाह बढ़कर 33 हजार, तीसरे साल 36,500 तो चौथे साल 40 हजार रुपये हो जाएगी। हालांकि इनकी सैलरी में से सेवानिधि पैकेज के लिए हर बार 30-30 फीसदी कटेगा। जैसे पहले साल में 30 हजार रुपये मिलने हैं। लेकिन इसमें से 21 हजार रुपये ही उसे दिए जाएंगे। बाकी 30 फीसदी यानी 9 हजार रुपये अग्निवीर सेवा निधि फंड में जमा होंगे। इस फंड में इतनी ही राशि (9 हजार रुपये) सरकार भी डालेगी। 

-चार साल पूरे करने के बाद अग्निवीर की तरफ से सेवा निधि फंड में 5.02 लाख और सरकार की तरफ से 5.02 लाख रुपये जमा कराए जा चुके होंगे। यानी चार साल की सेवा के बाद ड्यूटी मुक्त किए जाने की स्थिति में उसे 10.04 लाख रुपये बतौर सेवा निधि पैकेज मिलेंगे।

- सेवा के दौरान अग्निवीर इंडियन एयरफोर्स के अस्पतालों और इंडियन एयरफोर्स की सीएसडी कैंटीन का भी लाभ उठा सकेंगे।

-एयरफोर्स में सैनिक स्तर की भर्ती के नियम पुराने वाले ही रहेंगे। जैसे जनरल ड्यूटी (जीडी) सैनिक की भर्ती के लिए शैक्षणिक योग्यता कक्षा 10वीं पास ही रहेगी। अलग-अलग श्रेणियों में 10वीं-12वीं पास युवाओं को मौका मिलेगा।  

- भारतीय वायुसेना के अग्निवीर सर्विस के दौरान अपनी यूनिफॉर्म पर एक विशेष प्रतीक चिन्ह पहनेंगे।

- अग्निवीर सम्मान और पुरस्कार के हकदार होंगे।

- भारतीय वायुसेना अग्निवीरों का केंद्रीकृत उच्च गुणवत्ता वाला ऑनलाइन डेटाबेस बनाए रखेगी। इसमें अग्निवीरों की ओर से प्राप्त कौशलों को दर्ज किया जाएगा और उनका मूल्यांकन किया जाएगा।

- भारतीय वायुसेना के अग्निवीरों को प्रति वर्ष 30 छुट्टियां और चिकित्सकीय सलाह के आधार पर अन्य छुट्टियां मिलेंगी।

- असाधारण मामलों को छोड़कर चार साल पूरे होने से पहले खुद की अपील पर अग्निवीरों को रिहा नहीं किया जाएगा।

-  सेवा के दौरान अग्निवीर इंडियन एयरफोर्स के अस्पतालों और इंडियन एयरफोर्स की सीएसडी कैंटीन का भी लाभ उठा सकेंगे।

-  वायुसेना अग्निवीर का चार साल की ट्रेनिंग के दौरान 48 लाख रुपये का मेडिकल इंश्योरेंस रहेगा।

- अग्निवीर ग्रेजुएटी के हकदार नहीं होंगे।