High Cholesterol Diet: अगर बढ़ते कोलेस्ट्रॉल को करना चाहते हैं कंट्रोल तो रोजाना करें इन चीजों का सेवा

Punjab CM

High Cholesterol Diet: अगर बढ़ते कोलेस्ट्रॉल को करना चाहते हैं कंट्रोल तो रोजाना करें इन चीजों का सेवा

High Cholesterol Diet

High Cholesterol Diet

High Cholesterol Diet: हेल्दी सेल्स के लिए हमारे शरीर को कोलेस्ट्रॉल की जरूरत होती है, लेकिन हाई कोलेस्ट्रॉल लेवल(High Cholesterol level) हृदय रोगों जैसी गंभीर स्वास्थ्य स्थितियों(serious health conditions) के जोखिम को बढ़ा सकता है. कोलेस्ट्रॉल दो मुख्य प्रकार का होता है- लो डेंसिटी वाले लिपोप्रोटीन (LDL) जो कि खराब कोलेस्ट्रॉल है, और दूसरा हाई डेंसिटी वाले लिपोप्रोटीन (HDL) है, जो कि अच्छा कोलेस्ट्रॉल है. हाई कोलेस्ट्रॉल आपकी ब्लड वेसल्स में वसायुक्त जमा विकसित कर सकता है. अगर उपाय नहीं किए तो ये फैट बढ़ जाएगा और धमनियों में ब्लड फ्लो को अवरुद्ध कर सकते हैं. कभी-कभी ये जमा एक थक्का बना सकते हैं जो हार्ट अटैक या स्ट्रोक का कारण बनता है. हाई कोलेस्ट्रॉल विरासत में मिल सकता है, लेकिन आमतौर पर यह अनहेल्दी लाइफस्टाइल ऑप्शन के कारण होता है. इन्हें बदला जा सकता है और संभावित नुकसान से बचा जा सकता है. आप जो खाते हैं वह हाई कोलेस्ट्रॉल लेवल को रोकने में मदद कर सकता है.

आपकी डाइट का आपके कोलेस्ट्रॉल लेवल पर एक शक्तिशाली प्रभाव पड़ता है. अगर आप लो डेंसिटी वाले लिपोप्रोटीन (एलडीएल) कोलेस्ट्रॉल लेवल को स्वाभाविक रूप से कम करना चाहते हैं, तो आपको अपनी डेली डाइट में कई प्रकार के हेल्दी और पौष्टिक फूड्स को शामिल करना होगा और खुद को पैकेज्ड और प्रोसेस्ड फूड खरीदने, स्टॉक करने या खाने से रोकना होगा. कोलेस्ट्रॉल कम करने का यह प्राकृतिक तरीका हेल्दी है क्योंकि दवा लेने के विपरीत, यह किसी भी दुष्प्रभाव के जोखिम से बचाता है. यहां कुछ फूड्स दिए गए हैं जिन्हें आपको अपनी डेली डाइट में शामिल करना चाहिए.

फूड्स जो रखते हैं कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल | Foods That Keep Cholesterol In Control

1) ओट्स और जौ

ओट्स और जौ जैसे साबुत अनाज बीटा ग्लूकेन नामक घुलनशील फाइबर से भरे होते हैं जो आपके सिस्टम में अवशोषित कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करते हैं. अध्ययनों की समीक्षा में पाया गया कि रोजाना साबुत अनाज की तीन सर्विंग्स का सेवन हृदय रोग और स्ट्रोक के 20 प्रतिशत तक कम जोखिम से जुड़ा है. अगर आप इसे प्रतिदिन साबुत अनाज की सात सर्विंग्स तक बढ़ा दें तो यह बेहतर हो जाता है. आप अपनी सुबह की शुरुआत के लिए एक हेल्दी दलिया नाश्ता बना सकते हैं.

2) नट्स

बादाम और अखरोट जैसे नट्स को अपनी डेली डाइट में सुबह या शाम के स्नैक्स के रूप में शामिल किया जा सकता है. ये पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं और मोनोअनसैचुरेटेड और पॉलीअनसेचुरेटेड फैट से भी भरे होते हैं जो हृदय स्वास्थ्य और ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए बहुत अच्छे होते हैं.

3) एवोकैडो

एवोकैडो में कोलेस्ट्रॉल कम करने वाले प्रभाव होते हैं, क्योंकि वे मोनोअनसैचुरेटेड फैट और फाइबर का एक समृद्ध स्रोत हैं. शोध के अनुसार, अधिक वजन वाले लोग अपने आहार में प्रति दिन एक एवोकैडो को शामिल करके अपने एलडीएल कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम कर सकते हैं, उन लोगों की तुलना में जो एवोकाडो नहीं खाते हैं.

4) फैटी मछली

फैटी फिश जैसे सैल्मन, ओमेगा -3 फैटी एसिड का एक बेहतरीन स्रोत है. ये आपके दिल के लिए हेल्दी हैं क्योंकि ये एचडीएल या अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाते हैं और सूजन और स्ट्रोक के जोखिम को कम करते हैं. ओमेगा -3 फैटी एसिड एलडीएल कोलेस्ट्रॉल के लेवल को प्रभावित नहीं करता है, लेकिन उन लोगों के लिए अचानक मौत का खतरा कम कर सकता है जिन्हें पहले दिल का दौरा पड़ा है.

5) फलियां

प्लांट बेस्ड फूड्स हैं जिसमें सेम, मटर और मसूर शामिल हैं. ये फूड्स प्रोटीन, फाइबर और खनिजों से भरपूर होते हैं. अपने डेली लंच या डिनर में इन फूड्स से बने व्यंजनों को शामिल करने से रिफाइंड अनाज और प्रोसेसड मांस खाने की तुलना में हृदय रोग का खतरा कम हो सकता है. 

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. Arthparkash इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

यह पढ़ें:

यह पढ़ें':