महाराष्ट्र को पछाड़ हरियाणा बना नंबर वन
महाराष्ट्र को पछाड़ हरियाणा बना नंबर वन

महाराष्ट्र को पछाड़ हरियाणा बना नंबर वन

महाराष्ट्र को पछाड़ हरियाणा बना नंबर वन

खेलो इंडिया में सर्वाधिक दस गोल्ड समेत 31 पदकों पर जमाया कब्जा

चंडीगढ़, 6 जून। हरियाणा के मेजबानी में चल रहे खेलो इंडिया यूथ गेम्स के दौरान एक बार फिर से मेजबान हरियाणा के खिलड़ी तेजी से पदक तालिका में आगे बढ़ रहे हैं। यहां पांच देसी खेलों के साथ 25 खेल प्रतियोगिताओं में 1866 मेडल दांव पर हैं। 
खेल के चौथे दिन 10 गोल्ड सहित 31 मेडलों के साथ हरियाणा पदक तालिका में नंबर एक पर पहुंचा गया है। हरियाणा के खाते में 10 गोल्ड, 8 सिल्वर और 13 कांस्य पदक हैं। महाराष्ट्र भी 9 गोल्ड सहित 21 पदकों के साथ तालिका में दूसरे स्थान पर बना हुआ है। कुल 1866 पदकों में 545-545 गोल्ड व सिल्वर तथा 776 कांस्य पदक शामिल हैं।
चौथे दिन लडक़ों के वॉलीबॉल के पहले सेमिफाइनल मुकाबले में हरियाणा व राजस्थान की दोनों टीमों का जोश-उत्साह का शीर्ष वाक्य ‘बजरंग बली की जय’ था। दोनों टीमों को फाइनल में जगह बनाने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाना पड़ा। 120 मिनट से अधिक समय तक चला वॉलीबॉल का यह मुकाबला शायद खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 का अब तक का सबसे अधिक समय तक चलने वाला एक मैच था।
हरियाणा व राजस्थान दोनों की टीमों में जेबरा-मैन को छोडक़र खिलाडिय़ों की औसतन लंबाई 6 फुट से अधिक थी। दोनों ही टीमों के कोचों का लक्ष्य था कि किसी न किसी तरह टीम फाइनल में पहुंच जाए।   4 सैटों के मैच में अंत में बाजी हरियाणा ने मारी। पहला सेट हरियाणा ने 30-28 अंकों से, दूसरा राजस्थान ने  25-23, तीसरा हरियाणा ने 25-18 से व चौथा 25-23 से जीता। इस प्रकार, अब तक के हुए मैचों में हरियाणा 1063.9 अंकों के साथ फाइनल में पहुंच गया है। हरियाणा और राजस्थान दोनों के खिलाड़ी अभी हाल ही में ईरान में हुई विश्व वॉलीबॉल चैंपयिनशिप में भारत की टीम का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं।