Explosives came from Pakistan to Punjab to make a big blast before Independence Day, see the whole matter
Shamsher-Singh

Explosives came from Pakistan to Punjab to make a big blast before Independence Day, see the whole m

स्वतंत्रता दिवस से पहले बड़ा धमाका करने के लिए पाकिस्तान से पंजाब आया विस्फोटक, देखें पूरा मामला

कुरुक्षेत्र। हरियाणा के कुरुक्षेत्र में अंबाला-शाहाबाद हाइवे से मिला विस्फोटक (आईईडी) ड्रोन के जरिए पंजाब पहुंचा था। इस विस्फोटक में करीब 1.30 किलो आरडीएक्स, टाइमर, बैटरी, डेटोनेटर और इनवर्टर लगा था। जिसमें 9 घंटे का टाइमर लगा था। इससे स्वतंत्रता दिवस यानी 15 अगस्त से पहले धमाका किया जाना था। इसे पाकिस्तान से ड्रोन के जरिए भेजा गया था। जिसे तरनतारन में भारत-पाक बॉर्डर पर रहने वाले शमशेर ने कलेक्ट किया। फिर वह 4 दोस्तों के साथ जून में कुरुक्षेत्र गया। उसने वहां पेड़ के नीचे इसे छुपा दिया। इसके बाद वहां से फोटो और लोकेशन विदेश में बैठे हैंडलर को भेज दिया। इसके बाद उसका काम खत्म हो गया। इस दौरान वह वॉट्सऐप कॉल के जरिए हैंडलर के टच में था। अब इसके तार पाकिस्तान में बैठे कुख्यात आतंकी गैंगस्टर हरविंदर रिंदा से जुड़ रहे हैं। पुलिस शमशेर का मोबाइल खंगाल रही है। शमशेर को शुक्रवार को कोर्ट में पेश कर 16 अगस्त तक रिमांड पर लिया गया है।

टेरर मॉड्यूल का हिस्सा है आरोपी शमशेर सिंह 

पुलिस की शुरूआती जांच के मुताबिक पंजाब के तरनतारन का रहने वाला 25 साल का आरोपी शमशेर सिंह टेरर मॉड्यूल का हिस्सा है। उसने इस विस्फोटक, जगह की फोटो और लोकेशन विदेश में बैठे हैंडलर को भेज दी थी। फिर उनके दूसरे गुर्गे ने उसे आगे लेकर जाना था। इससे पहले ही पुलिस ने शमशेर को पकड़ लिया। उसकी निशानदेही पर विस्फोटक बरामद कर लिया गया।

विदेश में बैठक हैंडलर से कराया शमशेर से यह काम

विदेश में बैठे हैंडलर ने मोबाइल के जरिए ही शमशेर से यह काम कराया। पुलिस जांच में सामने आया कि इस काम के लिए शमशेर को रुपए और ड्रग्स ऑफर की गई थी। शमशेर का रोल यहां विस्फोटक रखने के बाद खत्म हो गया था। उसके मोबाइल से किसे कॉल आई और उसने किसे यहां से लोकेशन और बम रखे होने की फोटो भेजी, इसके लिए उसके मोबाइल की फोरेंसिक जांच कराई जा रही है। पुलिस बम की भी फोरेंसिक जांच करा रही है कि वह कितना शक्तिशाली था।

पुलिस खंगाल रही शमशेर सिंह का रिकॉर्ड

हरियाणा पुलिस ने इस मामले में पकड़े गए आतंकी समूह में शामिल शमशेर सिंह का रिकॉर्ड खंगालना शुरू किया है। इसके लिए पंजाब पुलिस से संपर्क कर उसके बारे में जानकारी इकट्ठा की जा रही है। उसके पुराने क्रिमिनल रिकॉर्ड, दर्ज केस के बारे में ब्यौरा इकट्ठा किया जा रहा है। पंजाब पुलिस भी अपने स्तर पर शमशेर का ब्यौरा खंगालने में जुटी है। पंजाब पुलिस को शक है कि उसने पंजाब में ड्रोन के जरिए आए बम को हरियाणा पहुंचाया। शमशेर पंजाब में एक दुकान चलाता है।