राज्यसभा चुनाव के बाद हरियाणा की राजनीति में धमाका: Congress ने कुलदीप बिश्नोई को पार्टी से निकाला, दिग्गज नेता ने सुबह ही शेयर की थी ये शायरी
Congress out Kuldeep Bishnoi from party

Congress out Kuldeep Bishnoi from party

राज्यसभा चुनाव के बाद हरियाणा की राजनीति में धमाका: Congress ने कुलदीप बिश्नोई को पार्टी से निकाला, दिग्गज नेता ने सुबह ही शेयर की थी ये शायरी

Haryana News : हरियाणा की दो राज्यसभा सीटों पर बीते कल चुनाव सम्पन्न हो गया और इस चुनाव में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा| दोनों सीटों में एक पर जहां भाजपा प्रत्याशी कृष्णलाल पंवार जीते तो वहीं दूसरी सीट पर भाजपा-जजपा समर्थित निर्दलीय कार्तिकेय शर्मा विजयी हुए| बतादें कि, कांग्रेस ने अजय माकन को अपना राज्यसभा उम्मीदवार बनाया था| कार्तिकेय शर्मा अगर न जीतते तो अजय माकन की जीत हो जाती| पर यहां सारा खेल कुलदीप बिश्नोई ने बिगाड़ दिया| कुलदीप बिश्नोई ने अपनी अंतरआत्मा से वोट दिया और माना जाता है कि यह वोट कार्तिकेय शर्मा के पक्ष में गया| कुलदीप बिश्नोई ने क्रॉस वोटिंग की और अपने ही उम्मीदवार को हरवा दिया|

कांग्रेस हाईकमान सख्त ...

सूत्रों के हवाले से यह बड़ी जानकारी सामने आ रही है कि कांग्रेस हाईकमान ने हरियाणा राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोट करने के चलते कुलदीप बिश्नोई पर सख्त एक्शन लिया है और उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया है| इसके साथ ही कुलदीप बिश्नोई से केंद्रीय कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की सदस्यता भी छीन ली गई है| वहीं, यह भी बताया जाता है कि कांग्रेस हाईकमान द्वारा हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष को कुलदीप बिश्नोई की विधानसभा से सदस्यता रद्द करने के लिए पत्र भी लिखा जाएगा|

सुबह ही लिखी थी ये शायरी ....

"फन कुचलने का हुनर आता है मुझे,
सांप के ख़ौफ़ से जंगल नही छोड़ा करते"।

बागी हो रखे थे कुलदीप बिश्नोई....

बतादें कि, कुलदीप बिश्नोई इन दिनों बागी हो रखे थे| कांग्रेस के प्रति उनके सुर ठीक नजर नहीं आ रहे थे| दरअसल, हरियाणा कांग्रेस का अध्यक्ष उदयभान को बनाये जाने के बाद कुलदीप बिश्नोई ने बागी रुख अपना लिया था|

कुलदीप बिश्नोई का राजनीतिक सफर ....

आपको बतादें कि, कुलदीप बिश्नोई काफी दिग्गज नेता हैं| वह पूर्व में दो बार भिवानी और हिसार से लोकसभा सांसद रह चुके हैं| इसके अलावा कुलदीप बिश्नोई इस समय हिसार की आदमपुर विधानसभा सीट से चौथी बार विधायक हैं| कुलदीप बिश्नोई पहली बार 1998 में आदमपुर से विधायक बने थे| इस सीट पर कुलदीप बिश्नोई के परिवार का भी दबदबा रहा है|