गुरु दक्ष प्रजापति जी शिक्षण संस्थान का भूमि पूजन कार्यक्रम 2 मई को : सतीश सरोहा
BREAKING
जम्मू-कश्मीर में सेना ने आतंकियों का बड़ा हमला रोका; फटाफट एक्शन में आए जवान, ताबड़तोड़ गोलियां बरसाईं, एनकाउंटर जारी सुप्रीम कोर्ट से योगी सरकार को बड़ा झटका; दुकानों पर 'नेम प्लेट' लगाने वाले आदेश पर रोक लगाई, UP समेत 3 राज्यों को नोटिस जारी RSS की गतिविधियों में अब शामिल हो सकेंगे सरकारी कर्मचारी; केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, 58 साल पुराना प्रतिबंध हटाया, कांग्रेस हमलावर "ढाई घंटे तक देश के प्रधानमंत्री का गला घोंटा गया''; संसद के बजट सत्र पर PM मोदी का बयान, पहले ही दिन विपक्ष पर जमकर बरसे चमत्कारिक है भगवान शिव का यह नाम जप; प्रेमानंद महाराज ने बताया- कैसे दिखाता है प्रभाव, महादेव के इस मंत्र को न जपने की दी चेतावनी

गुरु दक्ष प्रजापति जी शिक्षण संस्थान का भूमि पूजन कार्यक्रम 2 मई को : सतीश सरोहा

Guru Daksh Prajapati Ji Educational Institute

Guru Daksh Prajapati Ji Educational Institute

कार्यक्रम में समाज की भागेदारी को लेकर लगातार समाज के लोगो के बीच जा रही है बीपीएचओ संगठन व धर्मशाला टीम

कैथल (कृष्ण प्रजापति) : Guru Daksh Prajapati Ji Educational Institute: कुरुक्षेत्र प्रजापति धर्मशाला की ओर से गुरु दक्ष प्रजापति जी शिक्षण संस्थान हेतु खरीदी गई साढ़े 3 एकड़ भूमि की चारदीवारी व भूमिपूजन कार्यक्रम 2 मई 2024 को सुबह सवा 9 बजे से लगातार आयोजित होगा। इस बारे में जानकारी देते हुए भारतीय प्रजापति हीरोज ऑर्गेनाइजेशन (रजि.) के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रजापति सतीश सरोहा ने कहा कि यह भूमि घराड़सी गांव में पिण्डारसी रेलवे स्टेशन के पास ढांड-कुरुक्षेत्र रूट पर ख़रीदी गई है। उन्होंने कहा कि भूमि पूजन कार्यक्रम में समाज की भागेदारी को लेकर बीपीएचओ संगठन व धर्मशाला टीम लगातार समाज के लोगो के बीच जा रही है।बीपीएचओ संगठन की इस भूमि खरीद में काफी महत्वपूर्ण भूमिका रही है। प्रजापति सतीश सरोहा ने कहा कि कैथल, कुरुक्षेत्र, करनाल, जींद, भिवानी, अंबाला, सोनीपत, रोहतक सहित प्रदेश भर की बीपीएचओ टीम द्वारा गांव-गांव जाकर समाज के लोगों को कार्यक्रम में बढ़ चढ़कर भाग लेने का न्यौता दिया जा रहा है। प्रधान दर्शन लाडवा, पूर्व प्रधान भवानी दास कल्याण, रिटायर्ड बीडीपीओ बलबीर चौलिया, लाल सिंह आर्य, मोहन सिंह मिर्जापुर और धर्मशाला से जुड़ा प्रत्येक व्यक्ति इस उपलब्धि से अपने आपको गौरवशाली महसूस कर रहा है कि उनके गुरु दक्ष प्रजापति महाराजा के नाम से कोई शिक्षण संस्थान समाज के प्रयासों से तैयार होगा। गौरतलब है कि इस भूमि खरीद में केवल समाज के लोगों ने ही दान दिया है और किसी भी राजनीतिक दलों या अन्य समाज से एक भी रुपया चंदा या ग्रांट का नहीं लिया गया है। अब समाज का प्रयास है कि चारदीवारी भी समाज के लोगो के सहयोग से निकाली जाए। समाज मे इस भव्य आयोजन को लेकर खुशी का माहौल है। उन्होंने कहा कि हवन यज्ञ व भूमि पूजन में सुबह 9:15 बजे पहुंचकर आहुति डालने का आह्वान किया। दोपहर 12:15 बजे विशाल भंडारे में प्रसाद ग्रहण करने और शिक्षण संस्थान की नींव व चारदिवारी में अपने हाथों से ईंट लगाने का आह्वान किया।