अफगानिस्तान से दहशत की खबर: काबुल में गुरुद्वारे पर भीषण अटैक, हमलावरों ने विस्फोट के साथ अंधाधुंध फायरिंग की, कई सिख श्रद्धालु फंसे, मौतों की भी खबर
गुरुद्वारे पर विस्फोट के बाद हर तरफ काला धुआं.....

Gurudwara Attack in Kabul

अफगानिस्तान से दहशत की खबर: काबुल में गुरुद्वारे पर भीषण अटैक, हमलावरों ने विस्फोट के साथ अंधाधुंध फायरिंग की, कई सिख श्रद्धालु फंसे, मौतों की भी खबर

Gurudwara Attack in Kabul : तालिबान के कब्जे वाले अफगानिस्तान से एक बड़ी दहशत भरी खबर सामने आई है| यहां राजधानी काबुल में कर्ता परवान गुरुद्वारे पर भीषण अटैक किया गया है| मिली जानकारी के अनुसार, शनिवार सुबह अचानक कुछ हमलावर गुरुद्वारे परिसर में पहुंचे और विस्फोट के साथ अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी| हमलावरों के इस हमले से गुरुद्वारे में माथा टेकने आये श्रद्धालु व गुरुद्वारे की सिख संगत बुरी तरह से फंस गई| इस दौरान मौके पर अफरा-तफरा देखने को मिली|

रिपोर्ट्स के अनुसार, हमलावरों के हमले में जान-माल के नुकसान का सही आंकड़ा अभी सामने नहीं आ सका है| हालांकि, गुरुद्वारे की सुरक्षा में एंट्री गेट पर खड़े गार्ड की हमलावरों के हमले में मारे जाने की पुष्टि हो रही है| बताया जाता है कि हमले के बाद तालिबानी लड़ाके मौके पर पहुंचे हुए हैं और इस हमले को लेकर आगे की कार्रवाई की जा रही है|

भारत ने मामला संज्ञान में लिया, चिंता जाहिर की...

बतादें कि, भारत ने गुरुद्वारे पर हमले को लेकर चिंता जाहिर की है और कहा है कि हालात पर करीब से नजर रखी जा रही है। विदेश मंत्रालय ने कहा कि काबुल में गुरुद्वारे पर हमले की मिल रही रिपोर्ट पर हम चिंतित हैं। विदेश मंत्रालय ने अपने ट्वीट में कहा, 'हम काबुल शहर में एक पवित्र गुरुद्वारे पर हुए हमले की घटना से बहुत चिंतित हैं। हम हालात की बारीकी से निगरानी कर रहे हैं और आगे की घटना के बारे में अधिक जानकारी की प्रतीक्षा कर रहे हैं।

सीएम भगवंत मान ने किया ये ट्वीट ....

इधर, सीएम भगवंत मान ने भी गुरुद्वारे हमले को लेकर चिंता जाहिर करते हुए इसकी कड़ी निंदा की है| सीएम मान ने ट्वीट करते हुए लिखा - ''मैं काबुल के गुरुद्वारा कर्ता परवान में हुए हमले की कड़ी निंदा करता हूं। भक्तों पर गोलियां चलने की खबरें सुनी हैं, मैं सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना कर रहा हूं। मैं काबुल में अल्पसंख्यकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए तत्काल सहायता के लिए पीएम मोदी जी और और विदेश मंत्रालय से आग्रह करता हूं।