'आप' ने सुखबीर बादल को दी चुनौती, कहा- डेरा प्रमुख राम रहीम से अपना संबंध स्पष्ट करें
आप ने सुखबीर बादल को दी चुनौती

'आप' ने सुखबीर बादल को दी चुनौती, कहा- डेरा प्रमुख राम रहीम से अपना संबंध स्पष्ट करें

'आप' ने सुखबीर बादल को दी चुनौती, कहा- डेरा प्रमुख राम रहीम से अपना संबंध स्पष्ट करें

एसआईटी ने 2015 में हुई श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी से जुड़े कोटकपूरा गोलीकांड मामले में सुखबीर बादल को समन भेजा : मलविंदर सिंह कंग

 -कंग ने शराब नीति पर बादल के आरोपों को किया खारिज, कहा- अकाली दल (बादल) ने दशकों तक पंजाब को लूटा

 -पिछली सरकारों ने न्याय में की देरी, 'आप' दिलाएगी सिख संगत को न्याय : कंग


चंडीगढ़, 25 अगस्त


शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल पर 2015 कोटकपूरा फायरिंग मामले के आरोपी को संरक्षण देने का आरोप लगाते हुए, आम आदमी पार्टी (आप) ने कहा कि वह इस मामले में अपनी संलिप्तता और बेअदबी के मुख्य साजिशकर्ता डेरा सच्चा सौदा राम रहीम के साथ अपने संबंध स्पष्ट करें।  

गुरुवार को एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान मीडिया को संबोधित करते ‘आप’ पंजाब के मुख्य प्रवक्ता मलविंदर सिंह कंग ने कहा कि 2015 कोटकपुरा फायरिंग मामले में श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी के बाद चल रही जांच में सुखबीर बादल का नाम सामने आया है। कोटकपुरा गोलीकांड की जांच के लिए गठित एसआईटी ने पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर बादल को 30 अगस्त को पूछताछ के लिए समन किया है। इस दौरान कंग के साथ आप नेता एडवोकेट रविंदर सिंह और आरपीएस मल्होत्रा ​​​​भी मौजूद थे।

 कंग ने कहा कि“ एसआईटी के समन के बाद  हमें उम्मीद है कि बादल स्पष्ट करेंगे कि शांतिपूर्ण सिख प्रदर्शनकारियों पर गोलीबारी का आदेश किसने दिया था और किसने डेरा प्रमुख के साथ साजिश रची थी और पंजाब में उनकी फिल्मों का प्रचार भी किया था। पंजाब के लोग सुखबीर बादल को उनके किये के लिए कभी माफ नहीं करेंगे।

कंग ने सुखबीर बादल द्वारा लगाए गए शराब नीति में अनियमितता के आरोपों को सिरे से खारिज किया और कहा कि बादल परिवार ने दशकों से पंजाब को लूटा है। इसलिए पंजाब के लोगों ने उन्हें सत्ता से बाहर कर दिया।

 कंग ने कहा कि बादलों ने परिवहन माफिया ड्रग माफिया, केबल माफिया और खनन माफिया को संरक्षण दिया और उन्हें आगे बढ़ाया। उनकी भृष्ट नीतियों के कारण,पंजाब आज भारी कर्ज में है।

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कंग ने कहा कि अकाली दल और कांग्रेस पंजाब को लूटने और अपनी तिजोरियां भरने के लिए आपस में मिल गए हैं। उन्होंने कहा कि इन दोनों ने श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी करवाई, कोटकपूरा और बहबल कलां में पुलिस फायरिंग के दोषियों को संरक्षण दिया। लेकिन, अब मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार 'सिख संगत' और पंजाब के लोगों को न्याय दिलाएगी।