संगरूर उपचुनाव: आम आदमी पार्टी बनाएगी हैट्रिक: हरपाल सिंह चीमा
संगरूर उपचुनाव: आम आदमी पार्टी बनाएगी हैट्रिक: हरपाल सिंह चीमा

संगरूर उपचुनाव: आम आदमी पार्टी बनाएगी हैट्रिक: हरपाल सिंह चीमा

संगरूर उपचुनाव: आम आदमी पार्टी बनाएगी हैट्रिक: हरपाल सिंह चीमा

 -सरकार ने अपने तीन महीने के कार्यकाल में कई ऐतिहासिक फैसले लिए: हरपाल सिंह चीमा


 संगरूर, 17 जून

कांग्रेस और अकाली अकाली दल के नेता हमेशा गैंगस्टरों को बचाते रहे हैं, लेकिन अब जांच चल रही है। यह बात पंजाब के वित्त एवं योजना एवं सहकारिता मंत्री हरपाल सिंह चीमा ने संगरूर में आप उम्मीदवार गुरमेल सिंह के पक्ष में प्रचार करते हुए मीडिया से कही। उन्होंने कहा अगर जांच में किसी भी नेता या अधिकारी का गैंगस्टरों के साथ संबंध पाया गया, तो वह भी सलाखों के पीछे होगा।

 हरपाल सिंह चीमा ने दावा किया, "आम आदमी पार्टी संगरूर उपचुनाव में हैट्रिक बनाएगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली आप सरकार के तीन महीने के लोक हितैषी कामों को देखते हुए  संगरूर के लोग आप उम्मीदवार गुरमेल सिंह को जीताकर संसद भेजेंगे।

 केबिनेट मंत्री ने कहा कि मान सरकार ने अपने पहले दो महीने में काईबड़े फैसले लिए। सरकार ने बेरोजगार युवाओं के लिए 26454 पदों को मंजूरी दी,किसानों को धान की सीधी बुवाई के लिए 1500 रुपये प्रति एकड़ प्रोत्साहन राशि दी,प्रत्येक परिवार को मुफ्त राशन सहित हर घर को प्रतिमाह 300 यूनिट मुफ्त बिजली देने का फैसला लिया। मंत्री हरपाल चीमा ने कहा कि संगरूर आप का गढ़ है। सभी विरोधी एक तरफ हैं और 'आप' एक तरफ। उन्होंने कहा कि विरोधी पार्टियों के उम्मीदवारों की जमानत जब्त होना तय है। इसलिए कांग्रेस,अकाली और भाजपा अध्यक्ष को यह तय कर लेना चाहिए कि कौन पहले इस्तीफा देगा।

वित्त मंत्री चीमा ने पंजाब में  बेरोजगारी के लिए कांग्रेस और अकाली दल को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि अगर आज पंजाब का युवा बेरोजगार है तो वह इन पार्टियों की सरकारों की वजह से है। सत्ता में तीन महीने के कार्यकाल के दौरान मान सरकार ने कई ऐतिहासिक फैसले लिए हैं। युवाओं सहित सभी वर्गों के हित में गए भी बड़े फैसले लेगी। हम सभी समस्याओं का समाधान करेंगे।

भ्रष्टाचार पर बात करते हुए हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि इतिहास है कि मुख्यमंत्री मान ने अपने मंत्री को भी नहीं बख्शा और भ्रष्टाचार के आरोप में उन्हें जेल भेज दिया। बाकी जो भ्रष्ट हैं, जिन्होंने पंजाब को लूटा, वे सभी जल्द जेल में होंगे। अपने भ्रष्ट नेता को बचाने के लिए धरना दे रहे बचेकुचे कांग्रेस नेता भी संगरूर उपचुनाव के नतीजे आने के बाद पार्टी छोड़ जाएंगे।

एक सवाल के जवाब में चीमा ने कहा कि पंजाब पुलिस राज्य की सुरक्षा के लिए बहुत अच्छा काम कर रही है।  पंजाब पुलिस ने आतंकवाद के दौर में भी शांति बनाए रखने का काम किया था और अब गैंगस्टरों के खिलाफ भी पुलिस की भूमिका सार्थक है। पंजाब पुलिस गैंगस्टरों को पकड़ कर लाई है। कानून के तहत उनके खिलाफ कार्रवाई होगी। 

हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि अकाली दल ने तो पहले ही संगरूर उपचुनाव में अपनी हार स्वीकार कर ली है। अकाली उम्मीदवार प्रचार के दौरान बैनरों व पोस्टरों में अपने ही नेता प्रकाश सिंह बादल,अध्यक्ष सुखवीर बादल और हरसिमरत कौर की फोटो लगाने से घबरा रहे हैं। उन्हें पता है अगर फोटो लगाई तो खुद के लोग भी उन्हें वोट ही डालेंगे।

सिमरनजीत सिंह मान पर टिप्पणी करते हुए आप नेता ने कहा कि बहुत से लोगों को चुनाव लड़ने का रिकॉर्ड बनाना है।  कुछ कांग्रेस से भाजपा में शामिल हो गए हैं। पंजाब और पंजाब का किसान केंद्र की भाजपा सरकार की नीयत से अच्छे से वाकिफ है।भाजपा किसानों के खिलाफ तीन काले कानून लेकर आयी,जिनके खिलाफ पंजाब का किसान दिल्ली की सीमा पर जाकर बैठ गया। इस संघर्ष में सात सौ से अधिक किसानों को शहीद होना पड़ा।
चीमा ने कहा कि आम आदमी पार्टी बड़ी बढ़त के साथ जीतेगी। 'आप'7-8 साल पुरानी पार्टी है जिसने विधानसभा चुनाव में 117 में से 92 सीटें जीतकर इतिहास रच दिया है।  विपक्षी दल घबराए हुए हैं, क्योंकि उनके उम्मीदवारों की जमानत जब्त होने वाली है।  उन्होंने कहा कि 2022 में पंजाब विधानसभा चुनाव के दैरान भी  विरोधी पार्टियां कह रही थी कि हरपाल सिंह चीमा बुरी तरह हारेंगे लेकिन उन्होंने बड़ी बढ़त के साथ जीत हासिल की थी।