आम आदमी पार्टी का भाजपा पर गंभीर आरोप, कहा- 'ऑपरेशन लोटस' के जरिए पंजाब में सरकार गिराने की कोशिश
आम आदमी पार्टी का भाजपा पर गंभीर आरोप

आम आदमी पार्टी का भाजपा पर गंभीर आरोप, कहा- 'ऑपरेशन लोटस' के जरिए पंजाब में सरकार गिराने की कोशिश

आम आदमी पार्टी का भाजपा पर गंभीर आरोप, कहा- 'ऑपरेशन लोटस' के जरिए पंजाब में सरकार गिराने की कोशिश

...हमारे विधायकों को पार्टी बदलने के लिए 25 करोड़ रुपये का ऑफर दे रही भाजपा, 'आप' सरकार गिराने के लिए रखे हैं 1375 करोड़ रुपये - हरपाल चीमा

 ...बीजेपी नेताओं और उसके एजेंटों ने पिछले 7 दिनों में आप के करीब 10 विधायकों से संपर्क किया : हरपाल चीमा

...बीजेपी पंजाब में 'सीरियल किलर' की तरह काम कर रही, 'आप' सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए राष्ट्रविरोधी ताकतें भी हुई शामिल : चीमा

 ...भाजपा के पास पंजाब के विधायकों को तोड़ने के लिए 1375 करोड़ रुपये है, लेकिन पंजाब की आर्थिक मदद के लिए पैसे नहीं : चीमा

चंडीगढ़, 13 सितंबर

आम आदमी पार्टी (आप) ने भाजपा पर विधायकों की खरीद-फरोख्त का गंभीर आरोप लगाया है। आप नेता और पंजाब के वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि भाजपा 'ऑपरेशन लोटस' के तहत पंजाब की 'आप' सरकार गिराने की कोशिश कर रही है।

मंगलवार को पार्टी मुख्यालय में आप विधायक मनजीत सिंह बिलासपुर, रमन अरोड़ा, लाभ सिंह उगोके, शीतल अंगुराल और रूपिंदर हैप्पी के साथ संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए हरपाल सिंह चीमा ने दावा किया कि दिल्ली और पंजाब के भाजपा के कई नेताओं और एजेंटों ने पिछले 7 दिनों में फोन कर करीब 10 'आप' विधायकों से संपर्क किया है और आप छोड़कर भाजपा में शामिल होने के लिए 25 करोड़ रुपये देने की पेशकश कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि वे किसी 'बाबू जी' (भाजपा के एक शीर्ष नेता) के साथ 'आप' विधायकों की मीटिंग करवाने की बात कर रहे हैं और भाजपा के सरकार बनने के बाद उन्हें कैबिनेट मंत्री बनाने का लालच भी दे रहे हैं। मना करने पर उनको सीबीआई और ईडी की रेड करवाने की धमकी दे रहे हैं।

चीमा ने कहा कि भाजपा पंजाब में हमारे 55 विधायकों को खरीदने की कोशिश कर रही है। 55 विधायकों को 25 करोड़ के हिसाब से जोडें तो 1375 करोड़ बनते हैं। दिल्ली के लिए उन्होंने करीब 800 करोड रुपए रखे थे। अगर हम सारे पैसे को जोड़ दें तो करीब 22 सौ करोड़ रुपए भाजपा ने आप सरकार को गिराने के लिए रखे हैं। उन्होंने सवाल किया कि भाजपा वाले बताएं कि इतने पैसे कहां से आए? क्या इस महाघोटाले की जांच करने की हिम्मत सीबीआई और ईडी दिखाएगी? 

उन्होंने कहा कि भाजपा का यह काम गोवा, कर्नाटक,मध्यप्रदेश,महाराष्ट्र और अरुणाचल प्रदेश में तो सफल हो गया क्योंकि कांग्रेस और दूसरी क्षत्रिय पार्टियों की सरकारों को तोड़ना आसान है। लेकिन आम आदमी पार्टी के विधायकों को तोड़ना भाजपा के बस की बात नहीं है। भाजपा लाख कोशिश कर ले लेकिन हमारे विधायक तो क्या एक वालंटियर तक नहीं तोड़ पाएगी। हम सब केजरीवाल और भगवंत मान के सच्चे सिपाही हैं, न डरने वाले हैं न बिकने वाले हैं।

चीमा ने कहा कि भाजपा आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल से डरती है, इसलिए वह किसी भी तरह अरविंद केजरीवाल को रोकना चाहती है। लेकिन भाजपा अरविंद केजरीवाल के शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार मिशन को नहीं रोक पाएगी।

उन्होंने दुख जताते हुए कहा कि बेहद दुर्भाग्य की बात है कि भाजपा की केंद्र सरकार पंजाब की मदद करने के बजाए जनता के टैक्स के पैसे से विधायकों की खरीद-फरोख्त कर रही है। लेकिन भाजपा की इस तरह की घटिया राजनीति पंजाब में कभी सफल नही हो सकती।