Apple Benefits: सेब खाने के इन फायदों के बारे में जानकर यकीनन चौंक जाएंगे आप
Apple Benefits

Apple Benefits: सेब खाने के इन फायदों के बारे में जानकर यकीनन चौंक जाएंगे आप

Apple Benefits: सेब खाने के इन फायदों के बारे में जानकर यकीनन चौंक जाएंगे आप

दिल्ली। Apple Benefits:  आपने अक्सर लोगों को कहते सुना होगा कि रोजाना एक सेब खाने वाले व्यक्ति को डॉक्टर के पास जाने की जरूरत नहीं पड़ती है। इसके लिए यह कहावत  "An apple a day keeps the doctor away" बहुत प्रचलित है। आसान शब्दों में कहें तो रोजाना सेब खाने से व्यक्ति हमेशा सेहतमंद रह सकता है। यह भारत समेत दुनिया के कई देशों में पाया जाता है। ऐसा कहा जाता है कि सबसे पहले यह एशिया में पाया जाता था। इसके बाद यूरोप के लोगों को इसके बारे में पता चला था। सेब में विटामिन ए, बी, सी, पॉलीफेनोल(polyphenols), फ्लेवोनोइड्स(flavonoids), कैल्शियम(calcium), पोटेशियम और एंटीऑक्सीडेंट्स(Antioxidants) के गुण पाए जाते हैं। इसके अलावा, सेब में पेक्टिन और घुलनशील फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। वहीं, सेब के छिलके में quercetin पाए जाते हैं। ये सभी आवश्यक पोषक तत्व सेहत के लिए फायदेमंद साबित होते हैं। सेब के खाने से शुगर, ब्लड प्रेशर और मोटापा कंट्रोल में रहता है। कई शोधों में खुलासा हो चुका है कि सेब खाने से सेहत पर अनुकूल प्रभाव पड़ता है। साथ ही ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है। एक नवीनतम शोध में दावा कि सेब खाकर उच्च रक्तचाप को आसानी से कंट्रोल किया जा सकता है। आइए, शोध के बारे में सबकुछ जानते हैं-

सेब सेहत के लिए वरदान

एक शोध में खुलासा हुआ है कि सेब सेहत के लिए वरदान साबित होता है। इसके सेवन से कई बीमारियों में फायदा मिलता है। खासकर, डायबिटीज और उच्च रक्तचाप के लिए तो सेब दवा समान है। इसमें पोटेशियम और फ्लेवोनोइड्स जैसे आवश्यक पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर में फायदेमंद साबित होते हैं। इसके रोजाना सेवन से ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में रखा जा सकता है। इस शोध में उच्च रक्तचाप के मरीजों सात दिनों तक लगातार सेब खाने की सलाह दी गई। इसमें पाया गया कि सेब खाने से रक्तचाप कंट्रोल में रहता है। रक्त वहीं, सेब के सिरके को पानी में मिलाकर सेवन करने से डायबिटीज कंट्रोल में रहता है।

डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।