Home » चंडीगढ़ » मोहाली व पंचकूला से ज्यादा होंगी चंडीगढ़ में पानी की बढ़ी दरें
Water rates in chandigarh

मोहाली व पंचकूला से ज्यादा होंगी चंडीगढ़ में पानी की बढ़ी दरें

ट्राईसिटी के तीनों शहरों में एक ही जगह से पानी का सोर्स, पर रेट अलग-अलग

Water rates in chandigarh : प्रशासन व नगर निगम की तरफ से अगर पानी के रेट में इसी तरह इजाफा होता है तो ट्राईसिटी में यह पानी की सबसे ज्यादा दर होगी। चंडीगढ़ में पंजाब के मोहाली व हरियाणा के पंचकूला से ज्यादा पानी की दरें हो जाएंगी। मोहाली व पंचकूला में वहीं से पानी आता है जहां से चंडीगढ़ को मिलता है। लोग सवाल उठा रहे हैं कि जब पानी का सोर्स एक है तो दरें चंडीगढ़ में ज्यादा क्यों वसूली जा रही हैं। बता दें कि 1983 में भाखड़ा नहर से कजौली को पानी मिला और एक एग्रीमेंट साइन हुआ कि कजौली से मोहाली, चंडीगढ़, चंडीमंदिर व पंचकूला को पानी दिया जाएगा।

Water rates in chandigarh: नगर निगम चंडीगढ़ से मिली जानकारी के अनुसार अगर उपभोक्ता पहले 25 किलोलीटर पानी प्रतिमाह खर्च करता था तो उसे दो महीने का बिल 232 रुपये आता था। अब नई दरों के मुताबिक उसे इसके लिए 323 रुपये देने पड़ेंगे। यानि उपभोक्ता को 91 रुपये ज्यादा और प्रतिशत में कहें तो 39.22 प्रतिशत ज्यादा राशि पूजनी पड़ेगी। नया पानी का बिल पुराने का 139.22 प्रतिशत है। अगर उपभोक्ता 50 लीटर किलोलीटर पानी प्रतिमाह खर्च करता है तो उसे पुराने रेटों के मुताबिक प्रति दो माह का 596 रुपये बिल आता था। पानी की नई दरों के मुताबिक यह बिल अब 1025 रुपये पर पहुंच जाएगा। यानि प्रति दो माह बिल में 429 रुपये की बढ़ोतरी जो 71.97 प्रतिशत बनती है। यह नया बिल पुराने बिल का 171.97 प्रतिशत है। अगर उपभोक्ता 100 किलोलीटर प्रतिमाह पानी खर्च करता है तो उसे दो माह का बिल आता था 1584 रुपये। नई दरों के मुताबिक उसे यह बिल मिलेगा 3833 रुपये। यानि हर दो माह के बिल पर 2249 रुपये का इजाफा। यह 141.98 प्रतिशत बढ़ोतरी बैठती है। पुराने बिल का यह 241.98 प्रतिशत है। 150 किलोलीटर प्रतिमाह अगर उपभोक्ता पानी खर्च करता है तो उसे दो माह का पानी का बिल 2624 रुपये मिल रहा था। नए रेटों के मुताबिक यह अब उसे 6923 मिलेगा। यानि बिल में 4329 का इजाफा। यह बढ़ोतरी 164.97 प्रतिशत बैठती है। नया बिल पुराने बिल से 264.97 प्रतिशत ज्यादा है। 200 लीटर प्रतिमाह पानी की खपत पर पुराना बिल 3664 रुपये रहता था जो नई दरों के बाद 10073 रुपये हो जाएगा। यानि पानी के दो माह के बिल में 6409 रुपये का इजाफा जो 174.19 प्रतिशत बढ़ोतरी बैठती है। यानि नया बिल पुराने बिल का 274.19 प्रतिशत बैठता है। 300 लीटर किलोलीटर प्रतिमाह की खपत पर पहले बिल आतात था 5744 रुपये। नये रेट के मुताबिक बिल आएगा 16313 रुपये। यानि 10,569 रुपये का इजाफा जो 184 प्रतिशत बढ़ोतरी है। पुराने के मुकाबले नये बिल में यह 284 प्रतिशत का इजाफा है। नगर निगम पानी की दरें 39 प्रतिशत से 184 प्रतिशत तक बढ़ाने जा रहा है जिसे उपभोक्ताओं को बताया नहीं गया है। फिलहाल इन दरों में काऊ सैस शामिल नहीं है। सीवरेज सैस 30 प्रतिशत, मैटेनेंस चार्ज, मीटर रैंट इत्यादि इसमें शामिल किये गए हैं।

रैंकिंग में 23वां व 29वां स्थान आना शर्मनाक

कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष (चंडीगढ़)प्रदीप छाबड़ा ने कहा है कि देश मे चंडीगढ़ का मयुनिसिपल परफॉर्मेंस रैकिंग में 23 वें रेंक व लिविंग इंडेक्स में 29वें रेंक पर आना बेहद ही चिंताजनक बात है। सिटी ब्यूटीफुल व प्री- प्लेंड सिटी के नाम जाने वाले चंडीगढ़ की भाजपा के राज में स्थिति बद से बद्दतर होती जा रही है। छाबड़ा ने कहा बीजेपी सांसद किरण खेर का गायब रहना व नगर निगम में बीजेपी के पार्षदों का अनुभवहीन होना व नौसिखियापन का नतीजा शहर की जनता को भुगतना पड़ रहा है। अगले नगर निगम चुनाव में कांग्रेस नगर निगम में काबिज होते ही शहर की इज्जत व स ममान वापिस लायेगी। ये हमारा शहरवासियों से वादा है।

मोहाली में दरें काफी कम

मोहाली में अगर रेजीडेंशियल परिसर में 1.8 प्रति किलोलीटर के हिसाब और सीवरेज प्रति सीट 30 रुपये के हिसाब से कोई 230 किलोलीटर पानी प्रति दो माह इस्तेमाल करता है तो 414 रुपये बिल आता है। कमर्शियल में 5 रुपये प्रति किलोलीटर के रेट और सीवरेज 60 रुपये के हिसाब से अगर 325 किलो लीटर प्रति दो माह पानी की खपत होती है तो इसका बिल आता है 1630 रुपये।

पंचकूला में 2018 में बढ़ी थीं दरें, लोगों के विरोध के बाद हुई थी वापिस

Water rates in chandigarh: पंचकूला में जनवरी 2018 में पानी की दरें बढ़ाई गई थी। अप्रैल 2017 में जो पानी के रेट नोटीफाई किये गए थे वह काफी ज्यादा थे। पंचकूला के लोगों ने इसका जबरदस्त विरोध किया और पानी की दरें कम की गई। फिलहाल पंचकूला में मीटर के हिसाब से 2.5 किलो लीटर से 10 किलो लीटर के उपयोग पर और 11 किलो लीटर से 20 किलो लीटर के उपयोग पर हर 10 किलो लीटर के ऊपर 5 रुपये प्रति किलो लीटर के हिसाब से देना होगा। अगर पानी का उपयोग 21 से 30 किलोलीटर रहता है तो यह दरें 8 रुपये प्रति किलो लीटर हो जाएंगी। 30 किलो लीटर से ज्यादा पानी की दरें रहती हैं तो यह रेट 10 रुपये प्रति किलो लीटर हो जाता है। यहां सीवरेज चार्जिस पानी के बिलों के 20 प्रतिशत हैं। पंचकूला में 305 किलोलीटर प्रतिमाह के पानी के इस्तेमाल पर 1211 रुपये का पानी का बिल आता है। इसमें 20 प्रतिशत सीवरेज चार्जिस भी शामिल हैं। 50 किलो लीटर प्रतिमाह के पानी की खपत पर 273 रुपये पानी का बिल है जिसमें 20 प्रतिशत सीवरेज चार्जिस शामिल हैं।

लोगों की लिमिट में लाए निगम पानी के बिल: गर्ग

आरटीआई व सामाजिक कार्यकर्ता आरके गर्ग समेत शहर के तमाम लोगों ने मांग की है कि पानी की इन दरों को ट्राईसिटी के दूसरे शहरों से उदाहरण लेकर एक लिमिट में नीचे लाया जाए अन्यथा लोगों पर भारी बोझ पडऩे जा रहा है। आरके गर्ग के मुताबिक नगर निगम को अपने पैसे को समझदारी से खर्च करना चाहिए बजाये इसके निगम नागरिकों पर बोझ लाद रहा है। यह नगर निगम की साख पर सवाल खड़े कर रहा है। उनके अनुसार यह लोक विरोधी नीतियां हैं जिसका खामियाजा तो जनता के आक्रोश से भुगतना पड़ेगा। यहां बता दें कि एमसी की जो लीज होल्ड प्रॉपर्टीज हैं उन्हें लेने वाला कोई नहीं है। निगम के काफी सं या में कंस्ट्रक्ट किये बूथ हैं जिन्हें खरीदने वाला कोई नहीं है।

Check Also

625 positive patients surfaced in the city, three died

चंडीगढ़ में कोरोना संक्रमण का धमाका : शहर में सामने आए 625 पॉजिटिव मरीज, तीन की मौत

चंडीगढ़। शहर में वीकेंड लॉकडाउन लगाने के बाद भी रविवार को कोविड संक्रमण का जो …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel