अग्निपथ योजना के लिए इस साल की ऊपरी आयु सीमा 21 साल से बढ़ाकर 23 साल की गई
अग्निपथ योजना के लिए इस साल की ऊपरी आयु सीमा 21 साल से बढ़ाकर 23 साल की गई

अग्निपथ योजना के लिए इस साल की ऊपरी आयु सीमा 21 साल से बढ़ाकर 23 साल की गई

अग्निपथ योजना के लिए इस साल की ऊपरी आयु सीमा 21 साल से बढ़ाकर 23 साल की गई

सेना में भर्ती के लिए लागू की गई नई योजना अग्निपथ (Agnipath Scheme) को लेकर देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं. इस बीच मोदी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. रक्षा मंत्रालय ने इस स्कीम के तहत इस साल की भर्ती के लिए अधिकतम आयु सीमा 21 वर्ष से बढ़ाकर 23 साल कर दी है.

सरकार ने मंगलवार को अग्निपथ योजना की घोषणा करते हुए कहा था कि सभी नई भर्तियों के लिए आयु साढ़े 17 से 21 साल के बीच होनी चाहिए.

रक्षा मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘‘इस तथ्य को ध्यान में रखते हुए कि पिछले दो वर्षों के दौरान भर्ती करना संभव नहीं हुआ, सरकार ने फैसला किया है कि 2022 के लिए प्रस्तावित भर्ती प्रक्रिया के लिए एकबारगी (आयु सीमा में) छूट दी जाएगी.’’ उन्होंने कहा कि अग्निपथ योजना के तहत 2022 की भर्ती प्रक्रिया के लिए ऊपरी आयु सीमा को बढ़ाकर 23 वर्ष कर दिया गया है.

कई राज्यों में हो रहा विरोध

'अग्निपथ' योजना (Agnipath Scheme) के खिलाफ बिहार, यूपी, मध्य प्रदेश और हरियाणा समेत कई राज्यों में छात्र सड़कों पर उतरे. बिहार में उग्र हुए छात्रों ने कुछ ट्रेनों में आग लगा दी. वहीं पलवल में भी प्रदर्शन हिंसक हो गया.

पुलिस ने हालात पर काबू पाने के लिए बल प्रयोग किया और प्रशासन ने इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया है. पुलिस ने करीब एक दर्जन लोगों को हिरासत में लिया है. प्रदर्शनकारियों ने उपायुक्त कार्यालय के सामने विरोध प्रदर्शन किया और राष्ट्रीय राजमार्ग 19 को जाम कर दिया.