पैरो की शेप खराब करते है ये नुकीले जूते,आइए बताते है क्या है Disadvantages 
Pointed shoes

पैरो की शेप खराब करते है ये नुकीले जूते,आइए बताते है क्या है Disadvantages 

पैरो की शेप खराब करते है ये नुकीले जूते,आइए बताते है क्या है Disadvantages 

Pointed Shoes: फैशन की बात करे तो जहां डिज़ाइनर अच्छे Clothes की बनावट हो तो वही मैचिंग Shoes की भी बनावट पर ध्यान दिया जाता है और सबसे जयादा धयान जूतों के Comfortable होने का रखा जाता है जिससे हमारे पैर दुखे न ही तंग हो। फैशन के नज़रिये से बात करे तो बाज़ारो में बहुत से जूते इतने अलग शेप के होते है जो लोगो को आकर्षित करते है और लड़के लकड़किया इसी फैशन के पीछे दीवाने हो जाते है। पर कभी कभी ये शोंक हमारे पैरो के लिए सही नहीं रहता है। अब अगर नुकीले जूतों की जाये तो ये जूते कुछ टाइम के लिए ही अच्छे साबित होते है पर बाद में पैरों के लिए ऐसे जूते बेहद नुकसानदेह साबित होते है। Pointed Shoes को पहनने से पैरो कि मांशपेशियों पर ज्यादा दबाव नहीं पड़ता है और पैरो के मसल्स कमजोर होने लगती है। तो   आज आपको बतांएगे कि नुकीले जूते पहनने से आपको क्या-क्या नुकसान हो सकता है। 

Disadvantages Of Pointed Shoes 

जोड़ो मे होने लगता है दर्द 

Pointed Shoes भी हमारे लिए जोड़ो में दर्द का कारण बन सकते है ये जरूरी नहीं है कि Joint Pain के लिए हमेशा कोई चोट या दूसरी बिमारी ही जिम्मेदार हो। नुकीले जूते पहनने से आपके पैर और पैर के पंजे दबते है, जिसके कारण आपको हड्डियों मे दर्द की समस्या हो सकती है। अगर आप भी पैरो के ज्वाइंट पेन से बचना चाहते है तो आपको नुकीले जुते पहनने से बचना होगा।  

अंगूठे की हड्डी में आती है दिक्कत

इन नुकीले जूते को पहनने से आपको अनेक प्रकार की समस्या हो सकती है नियमित तौर पर ऐसे जूते पहनने से पैरों में दर्द हो सकता है। ये अगुंठे के नाखून को नुकसान पहुचाने के साथ-साथ अंगूठे के जोड़ की हड्डी में भी परेशानी पैदा कर है और यही नहीं नुकीले जूते पहनने से अंगूठे की हड्डी टेढ़ी भी हो सकती है। 

फैशन के चकर में पैसो की बर्बादी 

हम आज के समय मे फैशन को देखते हुए हम अनेक प्रकार के जूते खरीद लेते है, और जब ये हमारे पैरों को नुकसान पहुचाना शुरू कर देता है, तब हमको इनको पहनने  मे दिक्कत होती है और हम नए जूते ही पहनना बंद कर देतेहै। फिर वो वैसे ही किसी कोने मे पड़े रहते है। इस तरह ये पैसे की बर्बादी का कारण बन जाता है। इसलिए कभी भी सेहत के लिए जरूरी चीजों के साथ समझौता नही करना चाहिए।