हिसार के गांव में कच्चे मकान की छत, गिरी मलबे के नीचे दबने से मां-बेटी की मौत
हिसार के गांव में कच्चे मकान की छत

हिसार के गांव में कच्चे मकान की छत, गिरी मलबे के नीचे दबने से मां-बेटी की मौत

हिसार के गांव में कच्चे मकान की छत, गिरी मलबे के नीचे दबने से मां-बेटी की मौत

हिसार।
--हिसार के गांव ढंडूर बीड में शुक्रवार तड़के एक मकान की छत गिरने से मां-बेटी की मौत हो गई। बच्ची का पिता घायल हो गया। घायल को सामान्य अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। जानकारी के अनुसार भीम सिंह अपनी पत्नी रानी देवी और बेटी इंदु के साथ अपने मकान में सोया हुआ था।


शुक्रवार तड़के करीब तीन बजे पड़ोसियों को आवाज सुनाई दी। पड़ोसी बाहर निकले तो देखा कि भीम सिंह के मकान की छत गिरी हुई है और उसका परिवार छत के नीचे दबा हुआ है। पड़ोसियों ने तुरंत परिवार वालों को मलबे से बाहर निकाला। मगर तब तक 45 वर्षीय रानी देवी और आठ वर्षीय इंदु की मौत हो चुकी थी। वही भीम सिंह का पैर टूट गया था। पड़ोसियों ने घायल भीम सिंह को सामान्य अस्पताल पहुंचाया जहां उसका उपचार चल रहा है। पड़ोसियों के अनुसार इंदु भीम सिंह की बहन की दोहती थी जिसे भीम सिंह ने गोद लिया हुआ था।