घर में घुसा बदमाश, गन प्वाइंट पर बहू को लूटा, ससुर ने पीछा कर पकड़ा, जमकर की धुनाई
BREAKING
जोशी ने गांव बड़ी करौर में रेत माफिया के हमले में घायल लोगों का कुशल-क्षेम जाना एमटीवी स्प्लिट्सविला एक्स 5 - एक्सयूज़ मी प्लीज़ के प्रतियोगी लक्ष्य, उन्नति और दिग्विजय राठी चंडीगढ़ में अपने फैन्स से मिले!* चंडीगढ़ प्रशासन द्वारा गांव रायपुर खुर्द में चलाई जा रही अवैध निर्माण पर कार्रवाई का स्थानीय लोगों द्वारा जबरदस्त विरोध केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद का यूपी में एक्सीडेंट; अपने संसदीय क्षेत्र के दौरे पर निकले थे, तेज रफ्तार गाड़ी ने पीछे से मारी कार में टक्कर गुजरात के स्कूल में खौफनाक हादसा; क्लासरूम में लंच कर रहे थे बच्चे, अचानक गिर पड़ी दीवार, वीडियो में कैद पूरा मंजर देखिए

घर में घुसा बदमाश, गन प्वाइंट पर बहू को लूटा, ससुर ने पीछा कर पकड़ा, जमकर की धुनाई

Robbed at Gunpoint

Robbed at Gunpoint

Robbed at Gunpoint: पानीपत शहर में मंगलवार शाम को न्यू विजय नगर स्थित एक मकान में हथियारबंद बदमाश ने महिला को गन पॉइंट पर लूटा। बदमाश ने महिला से मंगलसूत्र और कानो के टाप्स लूटे। ससुर मौके पर पहुंचा, तो बदमाश ने उसकी ओर दो बार गोली दागी। ट्रिगर दबाया, लेकिन गोली नहीं चली। इसके बाद बदमाश वहां से भाग निकला। जिसका ससुर ने पीछा कर पड़ोसियों की मदद से उसे पकड़ लिया। बदमाश की लोगों ने खूब पिटाई भी की। पुलिस मौके पर पहुंची। अचेत पड़े बदमाश के पास से पुलिस ने पिस्तौल, लूटे हुए आभूषण समेत अन्य चीजें बरामद की हैं। अचेत अवस्था में उसे सिविल अस्पताल लाया गया। जहां उसका इलाज चल रहा है। वहीं, वारदात का शिकार हुई महिला दहशत में है। वह आपबीती बताते हुए रोने लगी।

घायल मनीषा ने बताया कि मंगलवार रात करीब 8 बजे का टाइम था। मैं अपनी 8 माह की बेटी कियारा के साथ खेल रही थी। साथ ही रात के खाने की भी तैयारी कर रही थी। पति विकास एक फ्लैक्स की दुकान पर काम करता है। ससुर वजीर एक निजी बैंक में सफाई कर्मी है। सास सरोज भी काम करने जाती है। सभी रात करीब साढ़े 8 बजे तक रोजाना घर आ जाते हैं। इसलिए घर का दरवाजा भीतर से बंद नहीं किया हुआ था। अचानक किसी ने दरवाजा खटखटाया और गेट खोलते हुए भीतर एक युवक घुस गया। उसने मास्क लगाया हुआ था। युवक से पूछा कि आप कौन हो? जिस पर उसने मुझसे ही पूछा कि आपके पापा कहां हैं? मैंने कहा कि वे काम पर गए हुए हैं, थोड़ी देर में आ जाएंगे। मैंने, जब उससे पूछा कि आप कौन हो, क्या काम है। इतना कहते ही बदमाश ने एक दम पिस्तौल निकाली और मेरी तरफ तान दी। मुझे कहा कि चुपचाप बता कैश कहां रखा है, ज्वेलरी कहां रखी है। मैंने कहा कि कुछ भी नहीं है। इसी बीच उसने गले में पहना हुआ मंगलसूत्र पर झपटा मारा और वह ले लिया।

कानों में पहने हुए टॉप्स की ओर इशारा करते हुए वे भी ले लिए। फिर उसने कमरे में रखी अलमारी को खंगाला। सारा सामान बिखेर दिया। कुछ नहीं मिला। इसी बीच मेरी बेटी रोने लगी, तो बदमाश ने मुझे धमकाते हुए कहा कि इसे चुप करवा। उसने बच्ची की तरफ पिस्तौल कर दी, कहा कि वह इसे मार देगा। मैंने जब इस बात का विरोध किया तो उसने मेरे सिर में पिस्तौल की दो बार बट मारी। जिससे मेरे सिर से खून बहने लगा। खून से मेरी गोद में बच्ची भी सन गई। बदमाश करीब 5 मिनट रहा होगा, लेकिन उस वक्त ऐसा लगा था वो मेरे साथ-साथ मेरी बच्ची को भी मार देगा।