The Chief Minister Presided Program Of 75 Years : मुख्यमंत्री ने ऊना जिला के गगरेट विधानसभा क्षेत्र में प्रगतिशील हिमाचल: स्थापना के 75 वर्ष कार्यक्रम की अध्यक्षता की
The Chief Minister Presided Program Of 75 Years

मुख्यमंत्री ने ऊना जिला के गगरेट विधानसभा क्षेत्र में प्रगतिशील हिमाचल: स्थापना के 75 वर्ष कार्यक्रम

मुख्यमंत्री ने ऊना जिला के गगरेट विधानसभा क्षेत्र में प्रगतिशील हिमाचल: स्थापना के 75 वर्ष कार्यक्रम की अध्यक्षता की

प्रदेश को विकास की बुलंदी तक पहुंचाने में जन-जन का योगदान: मुख्यमंत्री

The Chief Minister Presided Program Of 75 Years

ऊना। (विवेक अग्रवाल) मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने ‘प्रगतिशील हिमाचलः स्थापना के 75 वर्ष’ कार्यक्रमों की कड़ी में आज ऊना जिले के गगरेट विधानसभा क्षेत्र के गोंदपुर बनेहड़ा में विशाल जनसभा को संबोधित किया। इस अवसर पर उन्होंने इन 75 वर्षों के दौरान प्रदेश को मज़बूत और अग्रणी बनाने के लिए प्रत्येक हिमाचली के योगदान के लिए आभार व्यक्त किया। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज जब पूरा देश आज़ादी का अमृत महोत्सव मना रहा है, हिमाचल प्रदेश भी अपने अस्तित्व के 75 वर्ष मना रहा है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में प्रदेश ने विकास में जो बुलंदी हासिल की है उसे भव्य तरीके से मनाने एवं इस उपलब्धि में योगदान देने वाले प्रदेशवासियों के प्रति आभार व्यक्त करने के लिए यह भव्य आयोजन किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की यह पहल कांग्रेस नेताओं रास नही आ रही है, जो दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता इस ऐतिहासिक आयोजन में भी राजनीतिक लाभ देख रहे हैं, जो इन नेताओं की मानसिकता को दर्शाता है।


जय राम ठाकुर ने कहा कि इन वर्षों में राज्य में अभूतपूर्व विकास हुआ है और इसका श्रेय प्रत्येक हिमाचली और पिछली सरकारों के सशक्त नेतृत्व को जाता है। उन्होंने कहा कि राज्य के गठन के समय प्रदेश की साक्षरता दर केवल   4.8 प्रतिशत थी, जबकि वर्तमान में यह 83 प्रतिशत से अधिक हो चुकी है। उन्होंने कहा कि उस समय प्रदेश में सड़कों की लंबाई 228 किलोमीटर थी जबकि अब प्रदेश में 39,500 किलोमीटर लम्बी सड़कों का जाल है। इसी प्रकार वर्ष 1948 में शैक्षणिक संस्थानों की संख्या 301 थी जो अब बढ़कर 16,124 हो गई है।


मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार का कार्यकाल पूर्ण होने वाला है। सरकार का यह कार्यकाल समाज के कमजोर वर्गों के कल्याण के उद्देश्य से शुरू की विभिन्न विकासोन्मुखी योजनाओं के लिए स्मरण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि दैनिक वेतन भोगियों की दिहाड़ी 50 रुपये प्रतिदिन की वृद्धि की गई है और पेरावकर्ज को आर्थिक राहत प्रदान करते हुए उनके मानदेय में रिकॉर्ड वृद्धि की गई है। उन्होंने कहा कि विभिन्न श्रेणियों की सामाजिक सुरक्षा पेंशन में वृद्धि की गई है और इस योजना पर पिछली कांग्रेस सरकार द्वारा 400 करोड़ रुपये की तुलना में वर्तमान सरकार 1300 करोड़ रुपये से अधिक वित्तीय लाभ प्रदान कर रही है। उन्होंने कहा कि डबल इंजन सरकारों ने यह सुनिश्चित किया है कि राज्य में विकास की गति निर्बाध जारी रहे। उन्होंने कहा कि राज्य के लिए बल्क ड्रग फार्मा पार्क स्वीकृत किया गया है, जो पूरे प्रदेश विशेष रूप से ऊना जिले के लिए वरदान साबित होगा। इस परियोजना के माध्यम से राज्य के 50,000 से अधिक युवाओं को रोजगार मिलेगा।


जय राम ठाकुर ने कहा यह आश्चर्यजनक है कि कांग्रेस सरकार ने अपने कार्यकाल के दौरान गरीबों और समाज के कमजोर वर्गों के कल्याण के प्रति कोई ध्यान नहीं दिया। उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार गंभीर रूप से बीमार मरीजों के परिवारों को सहारा योजना के अन्तर्गत 3000 रुपये प्रतिमाह, मुख्यमंत्री शगुन योजना के तहत बीपीएल परिवार की लड़की को 31000 रुपये, मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना के तहत निःशुल्क गैस कनेक्शन, हिमकेयर योजना के अन्तर्गत 5 लाख का स्वास्थ्य बीमा प्रदान कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों में महिलाओं को बस किराए में 50 प्रतिशत की छूट  और प्रत्येक घरेलू उपभोक्ता को 125 यूनिट मुफ्त बिजली भी प्रदान कर रही है। 


उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता जहां एक ओर राज्य सरकार के इन कल्याणकारी निर्णयों का भी विरोध करते हुए प्रदेश सरकार पर लोगों को मुफ्त की आदत डालने का आरोप लगा रहे हैं। वहीं दूसरी ओर अब यही नेता दस गारंटी दे रहे हैं और सत्ता में आने के पश्चात 300 यूनिट निःशुल्क बिजली देने का भी वादा कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने गगरेट विधानसभा क्षेत्र में हुए विकास का उल्लेख करते हुए कहा कि क्षेत्र में स्वां नदी के तटीकरण कार्य पर 235 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं और गगरेट में उपमण्डल अधिकारी कार्यालय खोला गया है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में लोगों को सुविधा प्रदान करने के लिए विभिन्न जलापूर्ति योजनाएं कार्यान्वित की जा रही हैं। उन्होंने गोंदपुर बनेहड़ा मैदान की चारदीवारी के लिए 40 लाख रुपये देने और गगरेट विधानसभा क्षेत्र में शहीद स्मारक के निर्माण की घोषणा की।


केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा कि भारत प्रगति और समृद्धि के पथ पर आगे बढ़ रहा है और इसका श्रेय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मजबूत और सक्षम नेतृत्व को जाता है। उन्होंने कहा कि जब पूरा विश्व कोरोना महामारी की चपेट में था उस समय देश के प्रधानमंत्री ने न केवल इस संकटकाल में प्रभावी ढंग से इस महामारी से निपटने के लिए आवश्यक कदम उठाए बल्कि यह भी सुनिश्चित किया कि महामारी के कारण देश की अर्थव्यवस्था प्रभावित न हो। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने भारत को विश्व गुरू बनाने के लिए हरसंभव प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने भारत को मजबूत और जीवंत बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पांच संकल्पों को आत्मसात करने का भी आह्वान किया। अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा कि केंद्र की तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने राज्य को दिए गए विशेष श्रेणी के दर्जे को समाप्त किया था, जबकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विशेष श्रेणी दर्जे को बहाल किया और विभिन्न केंद्रीय परियोजनाओं में केंद्र-राज्य की 90ः10 हिस्सेदारी सुनिश्चित की। 


उन्होंने कहा कि राज्य के लिए बल्क ड्रग पार्क संपूर्ण राज्य और विशेष रूप से ऊना जिले में आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा प्रदान करने में सहायक सिद्ध होगा। उन्होंने कहा कि राज्य में शीघ्र ही रेल नेटवर्क को सुदृढ़ीकरण व विस्तारीकरण किया जाएगा। उन्होंने गगरेट में एक इंडोर स्टेडियम का निर्माण करने की घोषणा की जिसे दो वर्ष के भीतर पूरा कर दिया जाएगा।
विधायक राजेश ठाकुर ने मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि पिछले लगभग पांच वर्षों के दौरान ऊना जिले और विशेष रूप से गगरेट विधानसभा क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास हुआ है। उन्होंने मुख्यमंत्री को आश्वासन दिया कि आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा सभी पांचों सीटों पर जीत हासिल करेगी।इस अवसर पर ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर, छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती, विधायक बलबीर चौधरी, उपायुक्त ऊना राघव शर्मा, पुलिस अधीक्षक अर्चित सेन उपस्थित थे।