हिमाचल में बारिश का कहर, चंबा में खाई में गिरा वाहन, एक की मौत 4 घायल ,चौपाल में चार मंजिला भवन जमींदोज
हिमाचल में बारिश का कहर

हिमाचल में बारिश का कहर,चंबा में खाई में गिरा वाहन, एक की मौत 4 घायल ,चौपाल में चार मंजिला भवन जमी

हिमाचल में बारिश का कहर,चंबा में खाई में गिरा वाहन, एक की मौत 4 घायल ,चौपाल में चार मंजिला भवन जमींदोज

शिमला: दो दिन भारी बारिश के बाद शनिवार हिमाचल के  चंबा जिले में शुक्रवार रात करीब 11 बजे तिसा रोड पर चंजू मुहाल में वाहन के खाई में गिर जाने से तिसागढ़ गांव के राहुल कुमार की मौत हो गई. जबकि

 चार अन्य घायल हो गए. राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी. अधिकारी के मुताबिक,  अधिकारी के मुताबिक, दुर्घटना के समय वाहन में कुल पांच लोग सवार थे. उन्होंने बताया कि इस दुर्घटना में राहुल कुमार की मौत हो गयी जबकि चार अन्य घायल हो गए, जिनमें से दो की हालत गंभीर बताई जा रही है. घायलों में से तीन की पहचान तिसागढ़ गांव के धीरज, सुनील और रोहित कुमार के रूप में हुई है. अधिकारी के मुताबिक घायलों को इलाज के लिए चंबा के मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल ले जाया गया. उन्होंने बताया कि गंभीर रूप से घायल दो लोगों को टांडा के मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल रेफर कर दिया गया है

 
कार का चालक गंभीर रूप से घायल है
बता दें कि हिमाचल में इन दिनों सड़क हादसे के मामले बढ़ गए हैं. बीते दिनों कुल्लू के साथ लगते बबेली स्थित ब्यास नदी में एक कार गिर गई थी. हादसे में दो युवक लापता हैं. जबकि कार का ड्राइवर अस्पताल में भर्ती हैं. कार मंगलवार देर रात को ब्यास नदी में गिरी है और कार का चालक गंभीर रूप से घायल है.

नदी-नाले ऊफान पर हैं
शुरुआती जानकारी में पता चला है कि कार मंडी से मनाली की तरफ जा रही थी. प्रशासन ने रेस्क्यू ऑपरेशन जारी कर दिया था. इसके लिए आईटीबीपी की टीम बुलाई गई थी. हादसे के कारणों का पता नहीं चल पाया था. हालांकि, भारी बारिश के चलते ब्यास नदी उफान पर है. ऐसे में बहे दो युवकों की तलाश करना काफी मुश्किल है. युवकों की पहचान नहीं हो पाई थी. उधर, पूरे प्रदेश में देर रात से भारी बारिश हुई है और नदी-नाले ऊफान पर हैं.


शिमला के चौपाल में चार मंजिला भवन 10 सेकेंड में जमींदोज हो गया है। इस भवन में दो बैंक, एटीएम, एक बीयर बार, एक ढाबा और निचली मंजिल में लोगों के आवास थे। निचली मंजिल में बीयर बार के एक कर्मचारी चंदन शर्मा को शीशे चटकने के बाद भवन गिरने का अंदेशा हुआ और उसने बाहर निकलकर शोर मचाया


ढाबा मालिक कृष्ण दत्त और बाहर खड़े एक अन्य व्यक्ति विनोद पनाइक ने शोर मचाया और सभी को बाहर निकाला। चंद मिनटों में पूरा भवन ताश के पत्तों की तरह भरभराकर गिर गया और मलबे के ढेर में तबदील हो गया। गनीमत रही कि सप्ताह के दूसरे शनिवार की छुट्टी होने के चलते यूको और हिमाचल ग्रामीण बैंक में छुट्टी थी।

ढाबे और बीयर बार में ही करीब 10 से 12 कर्मचारी और ग्राहक थे। एसडीएम चेत सिंह ने बताया कि प्रभावितों को फौरी राहत दी गई है। भवन गिरने के कारणों की जांच चल रही है। इस भवन के गिरने से कोई जानी नुकसान नहीं हुआ है। हालांकि, दोनों बैंकों को भारी नुकसान हुआ है। बैंकों का पैसा चेस्ट में सुरक्षित है।