Punjab government woke up after the death of a girl student in Chandigarh, see what action was taken
Punjab government woke up after the death of a girl student in Chandigarh, see what action was taken

Punjab government woke up after the death of a girl student in Chandigarh, see what action was taken

चंडीगढ़ में छात्रा की मौत से जागी पंजाब सरकार, देखें क्या लिया एक्शन

चंडीगढ़। चंडीगढ़ के प्रतिष्ठित कार्मल कॉन्वेंट स्कूल में पीपल का पेड़ गिरने से 10वीं की छात्रा हीराक्षी की मौत के बाद पंजाब सरकार जाग गई है। राज्य के सभी स्कूलों में दीपक लगे और सूखे पेड़ों की रिपोर्ट तलब कर ली गई है। जिला शिक्षा अफसरों को तुरंत इसकी जांच को कहा गया है। सरकार ने यह भी हिदायत दी है कि अगर ऐसे पेड़ हैं तो इन्हें वन विभाग की मदद लेकर तुरंत कटवाया जाए।

शिक्षा निदेशक ने कहा कि पंजाब में स्कूलों की इमारत के नजदीक, ग्राउंड और खाली जगहों पर बहुत सारे पेड़ लगे हुए हैं। बहुत सारे स्कूलों में विद्यार्थी लंच टाइम या खेल पीरियड में इन पे?ों के नीचे बैठते या खेलते हैं। इन पेड़ों में कईयों को दीपक लगा हुआ है जबकि कई पूरी तरह सूख चुके हैं। उनकी टहनियां या पूरे पेड़ कभी भी आंधी या किसी दूसरे कारण से गिर सकते हैं। इसलिए इनकी पूरी लिस्ट तैयार की जाए। स्कूल और विद्यार्थियों की सुरक्षा के लिए जहां जरूरत हो, इन्हें कटवाया जाए।

चंडीगढ़ में कल सेक्टर 9 स्थित कॉर्मल कॉन्वेंट स्कूल में शुक्रवार सुबह 11 बजे 250 साल पुराना पीपल का पेड़ गिर गया। जिस वक्त पेड़ गिरा, छात्राएं उसके नीचे बैठकर लंच कर रहीं थी। पे? के नीचे दबकर 10वीं की छात्रा हीराक्षी की मौत हो गई। हादसे में 18 विद्यार्थी और अटेंडेंट भी जख्मी हो गया। शुरूआती जांच में पता चलाा कि इस पेड़ के तने को नीचे तक दीमक खोखला कर चुके थे। चंडीगढ़ प्रशासन ने 2017 में इसे ‘हेरिटेज ट्री’ घोषित किया था। हालांकि इसकी देखरेख न होने की वजह से पेड़ गिर गया।