Anti Corruption Helpline Number: प्रदीप छाबड़ा ने प्रशासक को लिखा पत्रः चंडीगढ़ में भी जारी किया जाए एंटी करेप्शन हेल्पलाइन नंबर

Punjab CM

Anti Corruption Helpline Number: प्रदीप छाबड़ा ने प्रशासक को लिखा पत्रः चंडीगढ़ में भी जारी किया जाए एंटी करेप्शन हेल्पलाइन नंबर

Anti Corruption Helpline Number

Anti Corruption Helpline Number

कहा- चंडीगढ़ प्रशासन में इस समय बड़े पैमाने पर व्याप्त है भ्रष्टाचार, रोकने को दिल्ली व पंजाब जैसी कार्रवाई बेहद जरूरी

चंडीगढ़। Anti Corruption Helpline Number: आम आदमी पार्टी के सह प्रभारी एवं चंडीगढ़ के पूर्व मेयर प्रदीप छाबड़ा ने आज चंडीगढ़ के प्रशासक एवं पंजाब के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित को एक पत्र लिखकर चंडीगढ़ प्रशासन में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार व्याप्त होने का आरोप लगाते हुए इस पर गहरी चिंता व्यक्त की है। साथ ही यहां भ्रष्टाचार और भ्रष्ट अधिकारियों पर नकेल डालने के लिए चंडीगढ़ में भी पंजाब व दिल्ली की तरह एंटी करेप्शन हैल्पलाइन नंबर जारी किए जाने की मांग की है।  
पूर्व मेयर प्रदीप छाबड़ा ने चंडीगढ़ के प्रशासक को लिखे पत्र में कहा है कि वह केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ के एक नागरिक के रूप में चंडीगढ़ के लोगों की इस बड़ी समस्या की ओर ध्यान आकर्षित कराना चाहते हैं, क्योंकि चंडीगढ़ में इन दिनों भ्रष्टाचार बड़े पैमाने पर फैला हुआ है। छाबड़ा ने कहा कि एक समय चंडीगढ़ का प्रशासन अत्यधिक कुशल प्रशासन के रूप में जाना जाता था लेकिन अब चंडीगढ़ अकल्पनीय स्तर पर भ्रष्टाचार से त्रस्त है। ऐसा लगता है कि जैसे अफसरों में भष्टाचार का सरताज बनने की होड़ लगी है। छाबड़ा ने कहा कि दिल्ली और पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार ने भ्रष्टाचार को रोकने के लिए सकारात्मक कार्रवाई की है। इसके तहत एंटी करेप्शन हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है, जिस पर भ्रष्टाचार की बढ़ती बीमारी से त्रस्त लोग भ्रष्टाचार के खिलाफ खुलकर रिपोर्ट कर सकते हैं। यह हेल्पलाइन बेहद प्रभावशाली परिणाम दे रही है। इससे न केवल प्रशासन भ्रष्टाचार पर नकेल डली है, बल्कि लोगों को भी बड़ी राहत मिल रही है। प्रदीप छाबड़ा ने पत्र में चंडीगढ़ के प्रशासक एवं पंजाब के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित से मांग की है कि वह भी चंडीगढ़ में इसी तरह की पहल करें और यहां भी एक एंटी करेप्शन हेल्पलाइन नंबर जारी करें। यह कदम चंडीगढ़ प्रशासन में भी भ्रष्टाचार पर नियंत्रण रखने और चंडीगढ़ को भ्रष्टाचार मुक्त बनाने में बेहद कारगर होगा। छाबड़ा ने कहा कि इसके अलावा चंडीगढ़ में विजीलैंस विभाग को भी भ्रष्टाचार के अधिकतम मामलों का पता लगाने के लिए प्रोत्साहन दिया जाता है तो यह विभाग भी अधिक प्रभावी ढंग से कार्य कर सकता है। छाबड़ा ने कहा कि हालांकि चंडीगढ़ के प्रशासक ने यहां भ्रष्ट गतिविधियों के खिलाफ समय-समय पर सख्त जांच सुनिश्चित की है लेकिन लेकिन पंजाब व दिल्ली में हुई कार्रवाई को देखते हुए एंटी करेप्शन हेल्पलाइन तथा विजीलैंस विभाग की और ज्यादा सक्रियता से चंडीगढ़ में भ्रष्टाचार के मामले में बेहतर परिणाम सुनिश्चित होंगे।