पाकिस्तान में गहराया बिजली संकट, पंजाब की प्रांतीय सरकार ऊर्जा बचत योजनाओं को करेगी लागू
पाकिस्तान में गहराया बिजली संकट

पाकिस्तान में गहराया बिजली संकट, पंजाब की प्रांतीय सरकार ऊर्जा बचत योजनाओं को करेगी लागू

पाकिस्तान में गहराया बिजली संकट, पंजाब की प्रांतीय सरकार ऊर्जा बचत योजनाओं को करेगी लागू

कराची भारत के दो पड़ोसी देशों पाकिस्तान और बांग्लादेश में गंभीर बिजली संकट पैदा हो गया है. दोनों देशों की सरकारों ने इस संकट से निपटने के लिए एहतियाती उपाय करने शुरू कर दिए हैं. पाकिस्तान के सिंध प्रांत की सरकार ने ईंधन और बिजली बचाने के लिए मुल्क के सबसे बड़े शहर कराची में सभी शॉपिंग मॉल, बाजार, शादी घर और रेस्तरां को जल्द बंद करने के हिदायत दिए हैं. 

शादी, घर और रेस्तरां पर दस बजे के बाद प्रतिबंध 
शुक्रवार को उठाए गए प्रांतीय सरकार के इस कदम का मकसद देश में ऊर्जा संकट को दूर करना है, जिसकी वजह से पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था मुतासिर हुई है. गृह सचिव डॉ. सईद अहमद ने कहा कि हम ऊर्जा आपातकाल का सामना कर रहे हैं और हमें ऐसे कदम उठाने की जरूरत है, जो हालात  को काबू करने के लिए जरूरी हों. मंगनेजो ने कहा कि सभी बाजारों, दुकानों और शॉपिंग मॉल को रात नौ बजे तक बंद करना होगा, जबकि शादी घर और रेस्तरां को भी रात साढ़े 10 बजे तक बंद करने का निर्देश दिया गया है.

बांग्लादेश ने रात 8 बजे के बाद दुकानें, बाजार बंद 
वहीं, बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने संबंधित अधिकारियों से रात आठ बजे के बाद मुल्क भर में दुकानों, शॉपिंग मॉल और बाजारों को बंद करने के लिए जरूरी कदम उठाने को कहा है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, शुक्रवार रात प्रधानमंत्री कार्यालय के महानिदेशक (प्रशासन) मोहम्मद अहसान किबरिया सिद्दीकी द्वारा हस्ताक्षरित एक सर्कुलेशन में यह निर्देश दिया गया. अधिसूचना का मकसद दुनिया भर में बिजली और ऊर्जा की कीमतों में निरंतर मूल्य वृद्धि की पृष्ठभूमि के खिलाफ बिजली और ऊर्जा की बचत करना है.