Independence Day पर सरकार में SC से मांगा है ऐसा तोहफा कि सुनकर आप भी हो जायेंगे Emotional 
Supreme court

Independence Day पर सरकार में SC से मांगा है ऐसा तोहफा कि सुनकर आप भी हो जायेंगे Emotional 

Independence Day पर सरकार में SC से मांगा है ऐसा तोहफा कि सुनकर आप भी हो जायेंगे Emotional 

Supreme Court: आने वाले 15 अगस्त 2022 को देश की आज़ादी को 75 साल हो जाएंगे। जहां पुरे देश में आजादी के 75 साल का जशन मनाया जाना है।  वही सर्कार ने कुछ अहम फैसले लेने का सोचा है जो की 'Out Of The Box' के नज़रिये से होंगे। इसके लिए सरकार ने SC से शुक्रवार को जोर देकर कहा कि सरकार को कुछ कदम उठाने चाहिए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि इस साल स्वतंत्रता दिवस से पहले कुछ ऐसा करना चाहिए जिससे यह संकेत दिया जा सके कि सरकार इन मुद्दों पर गौर कर रही है। Justice SK Kaul और Justice M.M Sundresh की बेंच पर ख़ाक झांक रहे है उन आपराधिक मामलों को निचली अदालतों को बंद करना कर देना चाहिए। 
 

इस बात पर SC ने जताई नाराजगी

बता दें कि सरकार द्वारा राखी इस अपील पर कि सुप्रीम कोर्ट ने पिछले हफ्ते दोषी कैदियों की जमानत याचिकाओं पर उनकी अपील लंबित होने की सुनवाई में लंबी देरी पर नाराजगी जताई थी। सुप्रीम कोर्ट ने इलाहाबाद हाईकोर्ट के लिए कहा था कि उसे 'आउट ऑफ द बॉक्स' सोचना शुरू करना चाहिए और यह सुनिश्चित करने के लिए बंद दिनों में भी बुलाना चाहिए। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि अगर हाईकोर्ट को इन पर कार्रवाई करना मुश्किल लगता है तो वह 'अतिरिक्त बोझ उठाने' और याचिकाओं को सुप्रीम कोर्ट में सुनने के लिए तैयार है।  जानकारी के मुताबिक, 853 लंबित आपराधिक अपीलें ऐसी थीं जहां याचिकाकर्ताओं ने 10 साल से ज्यादा वक्त जेल में बिताए को हो गया है। शुक्रवार को सुनवाई के दौरान बेंच ने एएसजी से कहा कि हम आजादी के 75 साल मना रहे हैं। राज्यों और भारत सरकार की ओर से कुछ कार्रवाई क्यों नहीं की जा सकती ?