Muslim Youth Doing Sita Role : दस साल से मुस्लिम युवक कर रहा सीता का रोल
Muslim Youth Doing Sita Role

Muslim Youth Doing Sita Role

दस साल से मुस्लिम युवक कर रहा सीता का रोल

अर्थ प्रकाश, करमजीत परवाना। 


मनीमाजरा । भले ही देश में कुछ लोग धर्म को नफरत की दीवार बनाकर माहौल खराब करने के मौके ढूंढते रहते हो, लेकिन कुछ लोग शांति का संदेश देने के लिए साहसिक कार्य करते रहते हैं। ऐसा ही कुछ मनीमाजरा की किले में आयोजित शहर की सबसे पुरानी रामलीला में मंचन के दौरान देखने को मिल रहा है। जहां पर एक मुस्लिम युवक मिराज मलिक पिछले दस साल से माता सीता का किरदार निभा रहा है। ऐसा पहली बार है कि इलाके की रामलीला में अन्य समुदाय की युवक माता सीता का रोल कर रहा हो। मिराज मलिक से दस साल से द आजाद ड्रामाटिक क्लब द्वारा आयोजित रामलीला में सीता का रोल निभा रहे हैं। 

बचपन से ही था रामलीला में रूचि, पहली बार निभाया था सुमित्रा का रोल

दस साल से मुस्लिम युवक कर रहा सीता का रोल

 

बीटेक के बाद आईडीएफसी बैंक में कार्यरत मिराज मलिक को बचपन से रामलीला में रूचि थी। छोटे होते हुए वो रामलीला को देखने के लिए परिवार सहित मनीमाजरा के किला में पहुंचते थे। रामलीला देखते वो रामायण से इतना प्रभावित हुए कि उनका मन किया कि वो रामलीला में कोई किरदार निभाकर अभिनय करें।मिराज ने बताया कि जब वह 12 साल के थे तो उन्होंने रामलीला में अभिनय करने की इच्छा जताई। इस पर डायरेक्टर उन्हें अगले वर्ष रिर्हसल  पर आने के कहा। 13 वर्ष की आयु में मिराज को पहली बार रामलीला में अभिनय करने का मौका मिला। छोटी उम्र में डायरेक्टर ने उन्हें सुमित्रा का रोल दिया। मिराज ने रोल इतनी बखूबी से किया कि उसे अगले वर्ष से सीता का रोल दिया जाने लगा। इसके बाद से लगातार आठ साल से मिराज माता सीता का रोल कर रहे हैं।

किरदारों से होता है महानता का अनुभव

दस साल से मुस्लिम युवक कर रहा सीता का रोल

 

मिराज का कहना है कि हर उम्र की महिलाएं, युवक और पुरुष जब उनके चरण छूते हैं तो उसे इन चरित्रों की महानता का अनुभव होता है। लोग राम-सीता को जितना सम्मान देते हैं, वह हैरान कर देने वाला है। युवाओं को सीता मां के चरित्र से सबक सीखना चाहिए। उन्हें अपने देश की संस्कृति के बारे में जानना चाहिए और स्वस्थ परंपराओं का जिंदगी में उतारने की कोशिश करनी चाहिए।

इस बार निभाएंगे लक्ष्मण का किरदार

इस बारे में क्लब के महासचिव नवदीप कौशिक व प्रेस सचिव गौरव शर्मा ने बताया कि पिछले दस साल से मिराज मलिक बहुत ही ईमानदारी से माता सीता का किरदार निभा रहे थे। किरदार के दौरान उन पर मां सीता की ऐसी कृपा होती थी कि ऐसे लगता था कि मां सीता साक्षात मंचन पर आ गई हो । इस बार क्लब ने मिराज मलिक को लक्ष्मण का किरदार करने की जिम्मेदारी सौंपी है। हमें उम्मीद है कि मिराज लक्ष्मण के किरदार को भी शिद्दत से निभाएगा ।

पूरी खबर पढ़ें -  दस साल से मुस्लिम युवक कर रहा सीता का रोल