Multiplication for Rajya Sabha will start as soon as the results of assembly elections in Madhya Pradesh come
BREAKING
Haryana: आसमानी बिजली गिरने से बाबैन के गांव खिड़की वीरान में खेत में सरसों काट रहे मां सरोज बाला व बेटे रमन सैनी की मौके पर हुई मौत BJP के लोकसभा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी; PM मोदी यहां से लड़ेंगे चुनाव? जानिए कहां से कौन उम्मीदवार खड़ा BJP के एक और सांसद ने सक्रिय राजनीति से संन्यास लिया; जेपी नड्डा को लिखा पत्र, इससे पहले गौतम गंभीर ऐसा ही कर चुके भारत में स्पेन की महिला का गैंगरेप; झारखंड में घूमने आई थी, रात में दरिंदों ने मारपीट कर जिस्म नोचा, अस्पताल में इलाज चल रहा युवराज सिंह ने कहा- मैं गुरदासपुर से चुनाव नहीं लड़ रहा; BJP के टिकट पर लड़ने की चर्चा थी, सनी देओल को साइड कर रही पार्टी

मप्र में विधानसभा चुनाव के नतीजे आते ही शुरू होगा राज्यसभा के लिए गुणा-भाग

Multiplication for Rajya Sabha will start as soon as the results of assembly elections in Madhya Pra

Multiplication for Rajya Sabha will start as soon as the results of assembly elections in Madhya Pra

Multiplication for Rajya Sabha will start as soon as the results of assembly elections in Madhya Pradesh come- भोपाल। मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव के नतीजे आते ही राज्यसभा के चुनाव की तैयारी में राजनीतिक दल जुट जाएंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि राज्य में राज्यसभा की पांच सीटें मार्च 2024 में खाली हो रही हैं।

राज्य में राज्यसभा की पांच सीटें ऐसी हैं, जो मार्च में खाली होने वाली हैं। इनमें से चार सीटें भाजपा की और एक कांग्रेस की है। विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद तय हो जाएगा कि इन पांच सीटों में से कांग्रेस के खाते में कितनी जाएंगी और भाजपा को कितनी सीटों पर जीत मिलेगी।

राज्यसभा के सदस्यों की संख्या पर गौर करें तो राज्य में कुल 11 राज्यसभा सदस्य हैं, इनमें से पांच का कार्यकाल अप्रैल 2024 में पूरा हो रहा है। भाजपा के जो चार सदस्य हैं, उनमें से दो सदस्य प्रदेश के बाहर के हैं और वर्तमान में केंद्रीय मंत्री भी हैं।

वहीं, कांग्रेस की बात करें तो राजमणि पटेल सांसद हैं। भाजपा को अगर इन चारों सीटों पर जीत हासिल करनी है तो इसके लिए उसे विधानसभा चुनाव में 150 से ज्यादा विधायकों की जरूरत होगी।

विधानसभा चुनाव के नतीजे भले ही अभी न आए हों, मगर राज्यसभा के संभावित चुनाव और नाम को लेकर चर्चा अभी से जोर पकड़ने लगी है। चर्चा यही है क्या बीजेपी विधानसभा चुनाव की तरह ही लोकसभा चुनाव में प्रयोग करेगी और राज्यसभा सदस्यों को लोकसभा चुनाव के मैदान में उतरेगी।