विधानसभा का मानसून सत्र आठ अगस्त से
विधानसभा का मानसून सत्र आठ अगस्त से

विधानसभा का मानसून सत्र आठ अगस्त से

विधानसभा का मानसून सत्र आठ अगस्त से

बिजनेस सलाहकार समिति की बैठक में तय होगी सत्र की अवधि

चंडीगढ़, 21 जुलाई। हरियाणा विधानसभा का मानसून सत्र आठ अगस्त से शुरू होगा। सत्र की अवधि तीन दिन रहने यानी 10 अगस्त तक चलने की उम्मीद है। 11 को राखी है, इससे पहले ही मानसून सत्र को सम्पन्न किया जाएगा। हालांकि इस पर अधिकारिक तौर पर फैसला बिजनेस एडवाइजरी कमेटी (पीएसी) की बैठक में होगा।

बैठक के बाद मीडिया ब्रीफिंग में राज्य के खेल एवं युवा मामले मंत्री सरदार संदीप सिंह ने बताया कि बैठक में कुल 11 एजेंड रखे गए। उन्होंने कहा कि मानसून सत्र के संबंध में अनुशंसा हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय व विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता को भेजी जाएगी। इस मौके पर सीएम के अतिरिक्त प्रधान सचिव व पब्लिक रिलेशन डिपार्टमेंट के महानिदेशक डॉ. अमित अग्रवाल भी उनके साथ मौजूद रहे।

बैठक में हरियाणा राज्य सहकारी कृषि और ग्रामीण विकास बैंक लिमिटेड द्वारा डिबेंचर/ऋण की फ्लोटेशन के लिए एक हजार करोड़ रुपये की ब्लॉक गारंटी के नवीनीकरण के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। राज्य सहकारी कृषि और ग्रामीण विकास बैंक लिमिटेड ने नाबार्ड से डिबेंचर/ऋण की फ्लोटेशन के लिए राज्य सरकार की एक हजार करोड़ रुपये की गारंटी को सात साल यानी पहली मार्च, 2022 से 31 मार्च, 2029 तक के लिए रिन्यू करने का प्रस्ताव पेश किया था। वर्तमान गारंटी 31 मार्च 2022 को समाप्त हो चुकी है।

परिवहन विभाग हरियाणा (ग्रुप ए) सेवा नियम-2022 के निर्धारण के संबंध में प्रस्ताव को भी मंजूरी दी गई। ये नियम परिवहन विभाग हरियाणा (ग्रुप ए) सेवा नियम-2022 कहलाएंगे। ये सरकारी राजपत्र में उनके प्रकाशन की तिथि से लागू होंगे और अतिरिक्त परिवहन आयुक्त, संयुक्त परिवहन आयुक्त, जिला परिवहन अधिकारी-सह-सचिव, आरटीए, उप-परिवहन आयुक्त, उप-परिवहन आयुक्त (तकनीकी) और उप-परिवहन आयुक्त (आईटी) की भर्ती के लिए लागू होंगे।