पत्नी संग भाजपाई हुए कुलदीप बिश्नोई: शामिल होते ही पार्टी से कहा, ''मान-सम्मान में कोई कमी मत आने देना, हम इसी के भूखे हैं...'' Video में देखें और क्या-क्या बोले?
Kuldeep Bishnoi In BJP Now

Kuldeep Bishnoi In BJP Now

पत्नी संग भाजपाई हुए कुलदीप बिश्नोई: शामिल होते ही पार्टी से कहा, ''मान-सम्मान में कोई कमी मत आने देना, हम इसी के भूखे हैं...'' Video में देखें और क्या-क्या बोले?

Kuldeep Bishnoi In BJP Now : बागी होने के बाद कांग्रेस से निलंबित किये गए कुलदीप बिश्नोई अब भाजपा में शामिल हो गए हैं। आज दिल्ली में पार्टी मुख्यालय के अंदर कुलदीप बिश्नोई ने अपनी पत्नी रेणुका और तमाम समर्थकों के साथ बीजेपी का दामन थाम लिया है। वहीं, इस मौके हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर सहित बीजेपी के कई बड़े नेता मौजूद रहे।

मान-सम्मान में कोई कमी मत आने देना...

इधर, बीजेपी में शामिल होने के बाद कुलदीप बिश्नोई ने पार्टी को धन्यवाद दिया और कहा कि वह और उनके साथ शामिल हुए लोग पार्टी के लिए बेशर्त काम करेंगे। वह पार्टी के लिए विश्वास के साथ मन और लग्न से किसी भी काम को तत्पर रहेंगे| बस पार्टी उनके लिए इतना जरूर ध्यान रखे कि उनके मान-सम्मान में कोई कमी न आये। कुलदीप बिश्नोई ने कहा कि हम भरोसा दिलाते हैं हमसे और हमारे लोगों से काम में कोई शिकायत नहीं मिलेगी।

बीते कल दिया था विधायक पद से इस्तीफा...

ध्यान रहे कि, कुलदीप बिश्नोई इस समय हिसार की आदमपुर विधानसभा सीट से चौथी बार विधायक थे लेकिन बीते कल ही उन्होंने हरियाणा विधानसभा स्पीकर को अपना इस्तीफा सौंप दिया था। आपको बतादें कि, कुलदीप बिश्नोई हरियाणा के तीन बार मुख्यमंत्री स्वर्गीय भजन लाल के बेटे हैं। कुलदीप बिश्नोई खुद भी एक दिग्गज नेता हैं| वह पूर्व में दो बार भिवानी और हिसार से लोकसभा सांसद रह चुके हैं| इसके अलावा कुलदीप बिश्नोई इस समय हिसार की आदमपुर विधानसभा सीट से चौथी बार विधायक रहे| कुलदीप बिश्नोई पहली बार 1998 में आदमपुर से विधायक बने थे| इस सीट पर कुलदीप बिश्नोई के परिवार का ही दबदबा रहा है|

कांग्रेस से तकरार क्या हुई?

दरअसल, कुलदीप बिश्नोई की कांग्रेस से तकरार उस वक्त शुरू हुई जब पार्टी ने हरियाणा में कुमारी सैलजा को अध्यक्ष पद से हटाने के बाद उदय भान की अध्यक्ष पद पर नियुक्ति कर दी। यही बात कुलदीप बिश्नोई को खराब लगी। जिसके बाद उनका कांग्रेस से मोह भंग हो गया और इसका परिणाम देखने को मिला हाल ही में हुए राज्यसभा चुनाव में।

दरअसल, बीते दिनों हरियाणा की दो राज्यसभा सीटों पर हुए चुनाव में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा| दोनों सीटों में एक पर जहां भाजपा प्रत्याशी कृष्णलाल पंवार जीते तो वहीं दूसरी सीट पर भाजपा-जजपा समर्थित निर्दलीय कार्तिकेय शर्मा विजयी हुए| बतादें कि, कांग्रेस ने अजय माकन को अपना राज्यसभा उम्मीदवार बनाया था| कार्तिकेय शर्मा अगर न जीतते तो अजय माकन की जीत हो जाती| पर यहां सारा खेल कुलदीप बिश्नोई ने बिगाड़ दिया|

कुलदीप बिश्नोई ने अपनी अंतरआत्मा से वोट दिया और माना जाता है कि यह वोट कार्तिकेय शर्मा के पक्ष में गया| कुलदीप बिश्नोई ने क्रॉस वोटिंग की और अपने ही उम्मीदवार को हरवा दिया| जिसके बाद कांग्रेस हाईकमान सख्त हो गया और कुलदीप बिश्नोई को पार्टी से निलंबित कर दिया गया। इसके साथ ही कुलदीप बिश्नोई से केंद्रीय कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की सदस्यता भी छीन ली गई थी| साथ ही कांग्रेस हाईकमान द्वारा हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष को कुलदीप बिश्नोई की विधानसभा से सदस्यता रद्द करने के लिए पत्र भी लिखा गया था।

बीजेपी में शामिल होने की वीडियो देखें ...